चंडीगढ़ छेड़छाड़ केस: SSP का राजनीतिक दबाव से इनकार, लगाया मीडिया ट्रायल का आरोप

नई दिल्ली (7 अगस्त): हरियाणा बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष सुभाष बराला के बेटे विकास बराला पर लगे छेड़छाड़ का मामला लगातार तूल पकड़ता जा रहा है और पुलिस पर राजनीतिक दबाव में आरोपी विकास बराला को बचाने का आरोप लग रहा है। अपने ऊपर दबाव में काम करने के लग रहे आरोपों के बीच चंडीगढ़ के SSP ईश सिंघल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर सफाई दी। उन्होंने कहा कि पुलिस पर किसी तरह का राजनीतिक दबाव नहीं है और मामले में जांच जारी है। साथ ही उन्होंने कहा कि CCTV फुटेज लेने की प्रक्रिया जारी है। उन्होंने कहा कि मामले की हर पहलू से जांच जारी है और पुलिस पूरे सीन को रिक्रिएट कर रही है। जरूरत पड़ने पर धारा भी बढ़ाई जाएगी। 

SSP सिंघल ने कहा कि पुलिस पर किसी भी तरह का दबाव नहीं है। यदि दबाव होता तो पुलिस घटना वाले दिन मामला दर्ज नहीं करती। उन्होंने ये भी कहा कि शिकायत दर्ज होने के बाद आरोपी को गिरफ्तार भी किया गया। उन्होंने कहा कि हम पीड़ित की हर मुमकिन मदद के लिए तैयार हैं।  

साथ ही उन्होंने पूरे मामले को लेकर मीडिया पर भी निशाना साधा। उन्होंने कहा कि पूरे मामले का मीडिया ट्रायल हो रहा है। पत्रकारों के सवालों के बीच SSP  ईश सिंघल ने प्रेस कॉन्‍फ्रेंस को बीच में छोड़ दिया और कहा कि हम CCTV फुटेज की जांच कर रहे हैं और नतीजे आने के बाद दोबारा पीसी कर जानकारी दी जाएगी।