आजादी के 70 साल बाद भारत के सामने हैं ये चुनौतियां...


नई दिल्ली (11 अगस्त): देश 15 अगस्त को आजादी की 70वीं वर्षगांठ मनाने जा रहा है। इस दौरान भारत ने कई उपलब्धियां हासिल की, लेकिन बहुत से ऐसे पहलू हैं जिनमें अब भी शायद बहुत कुछ सुधार की जरूरत है जो आज भी भारत के लिए एक बड़ी चुनौती है।

1: बेरोजगार
भारत में रोजगार जरूरतों के कारण आर्थिक विकास पिछड़ता प्रतीत हो रहा है, भारत में रोजगार के अवसर लगातार कम हो रहे हैं। यहां युवाओं को नौकरी न मिलने की सबसे बड़ी चुनौती है।

2: आतंकवाद
बेरोजगारी की चुनौती देश के अंदर की बात है लेकिन इससे भी बड़ी चुनौती है आतंकवाद, जो देश के लिए एक बड़ी परेशानी का सवाल है, आतंकवाद से प्रभावित देशों में भारत का चौथा नंबर है।

3: जनसंख्या
एक हालिया आकलन के मुताबिक, 2020 तक देश में कामकाजी उम्र के लोगों की आबादी 90 करोड़ तथा नागरिकों की औसत आयु 29 वर्ष हो जायेगी जो चिंता का विषय है।

4: शिक्षा व्यवस्था
बदलते भारत में खराब शिक्षा व्यवस्था एक चिंता का कारण है स्कूलों में कक्षा पांच में पहुंचने वाले बच्चों में 50 प्रतिशत कक्षा दो की पुस्तकें भी नहीं पढ़ पाते।

5: स्वास्थ्य व्यवस्था
भारत में बिगड़ी हुई स्वास्थ्य व्यवस्था भी एक बड़ी चुनौती है, यहां 1,050 मरीजों के लिए सिर्फ एक ही बेड उपलब्ध है। इसी तरह 1,000 मरीजों के लिए 0.7 डॉक्टर मौजूद है।