महाराष्ट्र में यह चायवाला बना एजुकेशन का 'ब्रैंड अम्बैसडर'

नई दिल्ली (21 अप्रैल): महाराष्ट्र में बीजेपी की अगुवाई वाली फड़णवीस सरकार ने राज्य में उच्च और तकनीकी शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए एक नई और सराहनीय पहल की है। बुधवार को सरकार ने अपने एजुकेशन ब्रैंड अम्बैसडर के तौर पर सड़क किनारे चाय बनाने वाले एक आम आदमी को नियुक्त किया।

डीएनए की रिपोर्ट के मुताबिक, कई सरकारी योजनाओं के ब्रैंड अम्बैसडर रह चुके आमिर खान और अमिताभ बच्चन को लेकर हुए विवादों से बचते हुए फड़णवीस सरकार ने इस बार सुरक्षित कदम उठाया है। उन्होंने एक सेलिब्रिटी की जगह एक आम आदमी को चुना है। सरकार ने ऐसा कदम यंग्सटर्स को ध्यान में रखकर और उन्हें बड़े सपने देखने के लिए प्रेरित करने के लिए उठाया है।

30 वर्षीय सोमनाथ गिराम पुणे में चाय बेचते हैं। हाल ही में वह सुर्खियों में तब आ गए जब उन्होंने सारी परेशानियों को पार करते हुए चार्टर्ड अकाउंटेंसी (सीए) की परीक्षा पास कर ली। सोमनाथ सोलापुर जिले के एक किसान के बेटे हैं। जब बीकॉम करने के लिए खर्च उठाना संभव नहीं रहा तो सोमनाथ ने 2008 में घर छोड़ दिया।

उच्च शिक्षा विभाग के उपसचिव सिद्धार्थ करात ने बताया, "एक अम्बैसडर के तौर पर वह यूनिवर्सिटीज़ में जाएंगे और छात्रों से अपने अनुभव साझा करेंगे कि किस तरह पैसा कमाया जाए और सीखा जाए।" उन्होंने कहा कि इस चायवाले की कहानी काफी प्रेरणादायक है।