दलित प्रधान के बैठ जाने पर स्कूल हेडमास्टर ने छात्रों से करवाया कुर्सी का 'शुद्धीकरण'

नई दिल्ली (5 फरवरी): कानपुर देहात के एक स्कूल हेडमास्टर के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई गई है। उसपर आरोप है कि उसने एक दलित प्रधान के इस्तेमाल करने पर स्कूल की कुर्सी का शुद्धीकरण किया। 

डीएनए की रिपोर्ट के मुताबिक, पप्पी देवी ने जिला प्रशासन में हेडमास्टर के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है। शिकायत के अनुसार पप्पी देवी कानपुर देहात के स्कूल में दौरे पर गई थीं। वह स्कूल में खराब गुणवत्ता वाले मिडडे मील परोसे जाने पर विरोध करने गई थीं। उन्होंने अपनी शिकायत में कहा कि हेडमास्टर ने उनके साथ बुरा बर्ताव किया। साथ ही कक्षा चार के विद्यार्थियों से उस कुर्सी का शुद्धीकरण भी कराया जिसपर वह बैठ गई थीं।

उन्होंने बताया, "शर्मा ने उनके साथ में स्कूल की कुर्सी पर बैठने की हिम्मत करने पर मेरे साथ बुरा बर्ताव किया। जब मैंने उनसे फिर से पूछा कि मुझे क्यों नहीं बैठना चाहिए, इसपर उन्होंने मुझे गंभीर नतीजों की धमकी दी। उन्होंने मेरे साथ बुरा बर्ताव करते हुए मुझपर हमला किया। बाद में उन्होंने छात्रों और फोर्थ क्लास के कर्मचारी से कुर्सी धोने के लिए कहा।"

पप्पी देवी ने दावा किया कि उनके पति को भी धमकी दी गई, जब वह मामले के बारे में सुनकर स्कूल गए।