बॉस ने क्या किया जो कर्मचारी उसे बताने लगे 'दुनिया में सबसे अच्छा'

नई दिल्ली (2 मार्च) :  आंकड़े बताते हैं कि छोटे बच्चों की घर पर देखभाल के लिए पुरुषों की तुलना में महिलाएं ही अपने काम से अधिक छुट्टी लेती हैं। लेकिन ऑस्ट्रलिया की एक कंपनी के सीईओ ने इस स्थिति को बदलने के लिए अनोखी पहल शुरू की है। इस पहल के बाद कंपनी के कर्मचारी सीईओ को दुनिया का 'सबसे अच्छा बॉस' बता रहे हैं।

क्वींसलैंड रेल कंपनी ऑरिज़ोन ने एक नई योजना शुरू की है। इसके तहत पुरुष कर्मचारी अपने नवजात बच्चों की देखभाल के लिए छह महीने की छुट्टी ले सकते हैं। इस दौरान उन्हें आधी तनख्वाह का भुगतान किया जाएगा। ये कंपनी ऐसी महिला कर्मचारियों को डेढ़ गुणी तनख्वाह देंगी जिनके पति घर पर बच्चो की देखभाल के लिए रुकते हैं।

ये लाभ ऐसी महिलाओं को दिया जाएगा जो अपने बच्चे के जन्म के पहले साल में ही काम पर लौट आती हैं। दूसरी ओर उन पुरुषों को लाभ दिया जाएगा जो बच्चे के जन्म के पहले साल में कम से कम 13 हफ्ते की छुट्टी लेते हैं।

ऑरिज़ोन के सीईओ लांस हॉकरिज ने कहा कि ये 'शेयर्ड केयर'  कार्यक्रम महिलाओं की उन मुश्किलों की भरपाई के लिए है जो छुट्टी लेकर बच्चों की घर पर देखभाल के लिए रुकती हैं।

इस योजना का लाभ 'सेम सेक्स पार्टनर्स'  और सिंगल पेरेंट्स को भी मिलेगा। साथ ही जो कर्मचारी बच्चों को गोद लेंगे वो भी इसका फायदा ले सकेंगे। ऑस्ट्रेलिया में ये अपनी तरह का पहला कार्यक्रम है।

सीईओ ने द ऑस्ट्रेलियन अखबार को बताया कि इस कार्यक्रम की शुरुआत का विचार उन्हें लिफ्ट में कुछ महिला कर्मचारियों की बात सुनने के बाद आया। ये कर्मचारी अपने साथ पुरुष कर्मचारियों की ओर से किए जाने वाले बर्ताव की शिकायत कर रही थीं।

सीईओ ये सुनने के बाद महिला कर्मचारियों को लंच पर साथ ले गए। वहां सीईओ ने उनसे कंपनी में अनुभव के बारे में विस्तार से सुना। सीईओ ने कहा कि ये उनके लिए आंखें खोलने जैसा था। इसके बाद ही 'शेयर्ड केयर'  कार्यक्रम का विचार दिमाग में आया।