मेरठ: स्कूल का छात्रों को सीएम योगी जैसा बाल कटवाने का फरमान


नई दिल्ली(28 अप्रैल): उत्तर प्रदेश के मेरठ में एक स्कूल ने छात्रों को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जैसे बाल कटवाने का फरमान सुना डाला। मेरठ के सीबीएसई एफिलिएटेड स्कूल ऋषभ एकेडमी के फरमान में छात्रों को स्कूल में नॉन वेज न लाने का आदेश भी दिया गया है।


- इस फरमान के बाद ये मामला गरमाने लगा है। मीडिया की खबरों के मुताबिक स्कूल के छात्र इसके विरोध में आ गए हैं।


- एक अंग्रेजी अखबार की खबर के अनुसार स्कूल में बड़े बाल और दाढ़ी रखने वाले छात्रों को घुसने ही नहीं दिया जा रहा। इसके अलावा छात्रों को ये भी धमकी दी गई कि अगर उनके लंचबॉक्स ने नॉनवेज मिलता है तो उन्हें स्कूल से बाहर कर दिया जाएगा। हालांकि स्कूल प्रबंधन ने दावा किया है कि चूंकि स्कूल एक जैन ट्रस्ट द्वारा चलाया जा रहा है, ऐसे में लंच बॉक्स में अंडा तक लाना मना है।


- स्कूल प्रबंधन के इस फरमान के बाद कई अभिभावकों ने इसका विरोध करना शुरू किया। इस घटना की सूचना पुलिस को दे दी गई। पुलिस के हस्तक्षेप के बाद छात्र स्कूल के अंदर दाखिल हो सके।


- एक संप्रदाय विशेष के अभिभावकों ने वेस्ट ऐंड रोड स्थित ऋषभ एकेडमी के सचिव रंजीत जैन पर भेदभाव का आरोप लगाया। अभिभावकों ने बताया कि उनके बच्चों को केवल बाल की वजह से स्कूल में परेशान किया जा रहा है। स्कूल प्रशासन उन पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की तरह बाल कटवाने का दबाव बना रहा है। अभिभावकों का आरोप है स्कूल में सांप्रदायिकता फैलाने की कोशिश की जा रही है।