प्रद्युम्न मर्डर: CBSE का रेयान इंटरनेशनल स्कूल को नोटिस, पूछा- क्यों न रद्द कर दी जाए मान्यता

नई दिल्ली (16 सितंबर): 7 साल के बच्चे प्रद्युम्न मर्डर केस में CBSE गुरुग्राम के रेयान इंटरनेशनल स्कूल पर सख्त नजर आ रहा है। CBSE ने रेयान इंटरनेशनल स्कूल के प्रबंधकों से पूछा कि जब उनके यहां सुरक्षा में इतनी खामियां हैं, तो क्यों ना उनकी मान्यता रद्द कर दी जाये। 

गौरतलब है कि रेयान इंटरनेशनल स्कूल में पिछले दिनों एक सात साल के बच्चे प्रद्युम्न की हत्या टॉयलेट में कर दी गयी थी, जिसके बाद स्कूल की सुरक्षा व्यवस्था पर कई सवाल उठे हैं। बच्चे के माता-पिता का भी यह आरोप है कि स्कूल ने उनके बच्चे को पर्याप्त सुरक्षा मुहैया नहीं करायी जिसके कारण यह दुर्घटना हुई।

जांच के दौरान कई ऐसे खुलासे हुए जो चौंकाने वाले तो हैं ही, स्कूल की व्यवस्था की पोल भी खोलते हैं। स्कूल में लगाया गया सीसीटीवी कैमरा काम नहीं कर रहा था, वहीं बच्चों और कर्मचारियों (ड्राइवर, कंडक्टर और सफाई कर्मचारियों) के लिए टॉयलेट की सुविधा अलग-अलग नहीं थी। स्कूल की चहारदीवारी भी बहुत छोटी है, जिसके कारण कोई भी अंदर आ सकता था।

CBSEकी ओर से बनायी गयी दो सदस्यीय का कहना है कि जब बच्चे की हत्या हुई उसकी चीख किसी के द्वारा भी ना सुना जाना स्कूल प्रबंधन की लापरवाही का नमूना है। कमेटी ने कहा कि अगर प्रबंधन अपनी जिम्मदारियों का निर्वहन ठीक से करता, तो बच्चे की जान बचायी जा सकती थी।