सीबीआई ने सिम्भावली शुगर्स लिमिटेड पर दर्ज की FIR, 200 करोड़ की धोखाधड़ी का है आरोप

नई दिल्ली ( 25 फरवरी ): सीबीआई ने सिम्भावली शुगर्स लिमिटेड पर कड़ा ऐक्शन लिया है। सिम्भावली शुगर्स लिमिटेड पर ओरियंटल बैंक ऑफ कॉमर्स (OBC) का 200 करोड़ रुपये के धोधाड़ी का आरोप है। सीबीआई ने कंपनी के सीएमडी और डायरेक्टर्स पर धोखाधड़ी का केस दर्ज किया है। ओबीसी का दावा है कि हापुड़ की सिम्भावली शुगर्स लिमिटेड ने बैंक की मेरठ ब्रान्च में 200 करोड़ की धोखाधड़ी 2011 में की और 2015 में उसे दोहराया।

सीबीआई ने कंपनी के सीएमडी गुरमीत सिंह मान, डिप्टी एमडी गुरपाल सिंह और सीएफओ, एग्जिक्यूटिव और नॉन एग्जिक्यूटिव्स डायरेक्टर्स समेत 8 अन्य के खिलाफ एफआईआर दर्ज की है। अज्ञात बैंक अधिकारियों को भी एफआईआर में शामिल किया गया है। 

कंपनी ने 2011 में ओबीसी से 150 करोड़ रुपये का लोन लिया था। सिम्भावली ने यह लोन 5200 गन्ना किसानों को भुगतान के लिए लिया था। जिसके तहत हर किसान के अकाउंट में 3 लाख रुपये पहुंचाने थे। कंपनी ने किसानों का अकाउंट खोलने के लिए केवाईसी डॉक्यूमेंट्स बैंक को दिए थे। जब यह रकम किसानों के खाते में बैंक की ओर से ट्रांसफर की गई तो उसे दूसरे भुगतान कर दिए गए। 

जब ओबीसी डेट रिकवरी ट्राइब्यूनल (DRT) के पास पहुंची तो सिम्भावली शुगर्स ने पूरी रकम चुकाने के नाम पर 2015 में 110 करोड़ रुपये का फिर से लोन ले लिया। सिम्भावली शुगर्स लिमिटेड देश की सबसे बड़ी शुगर कंपनियों में से एक है और बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज में कंपनी लिस्टेड भी है।