CBI ने 10 करोड़ रूपये के मामले में दर्ज किया मामला, वैद्यनाथ अर्बन कोऑपरेटिव बैंक के 11 शाखाओं पर मारा छापा

नई दिल्ली ( 23 दिसंबर ): घाटकोपर पंतनगर पुलिस स्टेशन में पकड़े गए 10 करोड़ रूपये के मामले में सीबीआई ने मामला दर्ज कर लिया है। जिसमें वैद्यनाथ कोऑपरेटिव बैंक के दो मैनेजर, दो कर्मचारी और एक डॉक्टर शामिल हैं। इन लोगों पर 25 करोड़ की पुराने नोटों की हेराफेरी का आरोप है।

इस मामले में आज सीबीआई की मुम्बई, पुणे, औरंगाबाद और बीड में 11 जगहों पर छापा चल रहा है। ये लोग बीड से 25 करोड़ पुराने नोट 19 नवंबर को मुंबई स्थित अपने हेड ऑफिस में बदलने के नाम पर लाये थे, जिसमें 15 करोड़ महाराष्ट्रा स्टेट अर्बन को आपरेटिव बैंक में जमा कराये और 15 दिसंबर को 10 करोड़ बीड लेकर जाते समय पकड़े गए।

गौरतलब है की बैधनाथ को ऑपरेटिव बैंक के निदेशकों में दिवंगत बीजेपी नेता गोपीनाथ मुंडे की बेटी प्रीतम मुंडे भी हैं।

बता दें कि मुंबई के यातायात विभाग के अधिकारियों ने संदेह होने पर 15 दिसंबर की रात वैद्यनाथ अर्बन सहकारी बैंक से संबंधित एक कार को रोका। कार में रखी बोरी की जब तलाशी ली गई, तो उसमें 10 करोड़ 10 लाख रुपए बरामद हुए थे।