एयर इंडिया सॉफ्टवेयर घोटाला- सीबीआई ने दर्ज की एफआईआर

नई दिल्ली (14 जनवरी): सीबीआई ने एयर इंडिया, जर्मन कंपनी एसएपी एजी और कंप्यूटर कंपनी आईबीएम के अधिकारियों के खिलाफ 2011 में 225 करोड़ रुपये की लागत से की गई सॉफ्टवेयर की खरीद में अनियमितता के सिलसिले में एफआईआर दर्ज कर ली है।

सीबीआई सूत्रों ने बताया कि एजेंसी ने केंद्रीय सतर्कता आयोग (सीवीसी) की सिफारिश पर मामला दर्ज किया है। उसने सॉफ्टवेयर की खरीद में प्रथमदृष्टया प्रक्रियागत अनियमितताएं पाईं। एयर इंडिया के मुख्य सतर्कता अधिकारी की रिपोर्ट पर विचार करने के बाद आयोग ने सीबीआई को भेजे गए एक पत्र में कहा कि उसकी राय है कि 'खरीद के साथ-साथ भुगतान की गई रकम और जिस हद तक सेवा प्रदान की गई उसमें गंभीर प्रक्रियागत और अन्य अनियमितताएं' हुईं।

सीवीसी ने सीबीआई से कहा था कि वह 'निविदा प्रक्रिया में अनियमितताओं और अनुबंध देने और एसएपी, आईबीएम को पहुंचाए गए अनुचित फायदे की जांच करे।' उसने एजेंसी से कहा था कि वह जांच करे कि क्या आईबीएम के मुद्दे से निपटने वाले किसी व्यक्ति और सरकार में बैठे किसी व्यक्ति ने कोई वित्तीय या अन्य लाभ हासिल किया।