छोटा राजन पर CBI का शिकंजा, हत्या-फिरौती के 3 मामले की जांच शुरु की

मुंबई (23 जनवरी): गैंगेस्टर छोटा राजन पर CBI ने अपना शिकंजा कस दिया है। CBI ने राजन की कथित संलिप्तता वाली हत्या और फिरौती के 3 मामलों की जांच अपने हाथ में ली है। सीबीआई ने इन मामलों की जांच महाराष्ट्र सरकार के विशेष अनुरोध और भारत सरकार की अधिसूचना के आधार पर शुरु की है। आपको बता दें कि छोटा राजन को विदेश से गिरफ्तार कर भारत लाया गया है और उसे विशेष सुरक्षा में जेल में रखा गया है।

CBI ने शुरु की इन मामलों की जांच...

1- मामला बांद्रा स्थित निर्मल नगर पुलिस स्टेशन में 8 अप्रैल 1999 में 25 लाख रुपए हफ्ता मांगने और न देने पर जान से मारने की धमकी देने संबंधी FIR संख्या 92-99 का समावेश है। इस मामले में स्थानीय पुलिस ने मकोका भी लगाया था।

2- तिलक नगर पुलिस स्टेशन में 7 अक्टूबर 1998 को FIR संख्या 220 के तहत दर्ज किया गया था। इस मामले में बाला कोटियन और उसका साथी होटल नवग्रह में 7 अक्टूबर को शाम साढे 7 बजे बैठे थे, उसी समय होटल में दो अज्ञात लोग आए और बाला कोटियन के साथ उसके दोस्त पर अंधाधुंध फायरिंग करना शुरु कर दिया था। इस घटना में बाला कोटियन की मृत्यु हो गई थी और उसका साथी घायल हो गया था।

3- CBI ने नवघर पुलिस स्टेशन में 16 नवम्बर 2004 को दर्ज FIR संख्या  166-2004 की भी जांच शुरु की है। इस मामले में मुलुंड पूर्व में शिकायतकर्ता के कार्यालय में तीन हथियारबंद गुंडों का बलजबरी घुसना, वहां उपस्थित लोगों को गन पाईंट पर हफ्ता देने के लिए छोटा राजन के नाम पर धमकाना और कार्यालय में फोन, रिमोट सहित अन्य सामानों की तोडफ़ोड़ करने का समावेश है। यह मामला आर्मस ऐक्ट वमकोका के तहत दर्ज किया गया है। इन मामलों की सघन जांच जारी है।