नोटबंदी के बाद बैंकों में जमा कराए 10 लाख तो IT करेगी जांच

नई दिल्ली (19 जनवरी): नोटबंदी के बाद यानी 8 नवंबर के बाद जिन लोगों ने अपने बैंक खातों में 10 लाख रुपये से अधिक जमा कराए हैं, उनकी मुश्किलें बढ़ने वाली है। इनकम टैक्स डिपार्टमेंट अगले 15 दिनों में उनसे पूछेगा कि यह रकम उनके पास कहां से आई ? डिपार्टमेंट के पास जो डेटा है, उसके मुताबिक नोटबंदी के ऐलान के बाद 1.5 लाख बैंक खातों में 10 लाख रुपये या उससे ज्यादा रकम जमा कराई गई है।

इसके लिए केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड यानी CBDT ने अधिसूचना जारी की है। CBDT के नए ई-प्लेटफॉर्म के जरिये ऐसे अकाउंट होल्डर्स से संपर्क किया जाएगा। उन्हें ऑनलाइन जवाब दाखिल करना होगा।

साथ ही इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने बैंकों को निर्देश दिया है कि जिन लोगों ने एक लाख रुपये या फिर इससे अधिक के क्रेडिट कार्ड और कोई अन्य बिलों का नकद भुगतान किया है वैसे ग्राहकों की भी उन्हें जानकारी दी जाए।