मैक्डॉनल्ड्स के बर्गर में मिली बड़ी गड़बड़ी, खाने से हो सकती हैं ये बिमारियां

नई दिल्ली (27 जून): फास्ट फूड की दिग्गज कंपनी मैकडॉनल्ड्स को लेकर चौंकाने वाला खुलासा हुआ है। स्वास्थ्य विभाग द्वारा किए जांच में पाया गया कि मैकडॉनल्ड्स कंपनी में फूड प्रोडक्ट्स को बनाने के लिए तेल का 16 दिनों तक प्रयोग किया जाता है। 

जयपुर स्वास्थ्य विभाग द्वारा 17 जून को किए गए एक नियमित निरीक्षण ड्राइव के अनुसार, मैकडॉनल्ड्स के तीन ब्रांचों में बर्गर या अन्य फास्ट फूड बनाने के लिए प्रयोग किया जाने वाला तेल 16 दिन पुराना था। रिपोर्ट के अनुसार इस तेल को 16 दिनों तक रोज 360 डिग्री तापमान पर गर्म किया जाता है, जिससे इसका रंग काला हो जाता है।

स्वास्थ्य विशेषज्ञों का कहना है कि बार-बार एक ही तेल गर्म करने से यह अपना न्यूट्रीशन खो देता है। इसके बाद इसमें तैयार किए जाने वाले फूड प्रोक्ट्स हृदय रोग और स्तन कैंसर जैसी बिमारियों के कारण हो सकते हैं। 

जांच के दौरान पाया गया कि कुछ मैकडॉनल्ड्स के आउटलेट के पास तो तेल के प्रयोग में लाने की प्रबंधन प्रणाली भी नहीं थी। यह जांच, अधिकारियों को इस बात के लिए प्रेरित करता है कि वे अन्य फूड कंपनी जैसे केएफसी और सबवे से भी सेंपल कलेक्ट करें और पता लगाएं कि कहीं अन्य भी ऐसी चीजों का प्रयोग तो नहीं कर रहीं। हालांकि कंपनी ने इन सभी आरोपों का खंडन किया है।