WATCH: कम पड़ा नोट छापने के लिए कागज, सरकार करेगी इंपोर्ट

नई दिल्ली (12 दिसंबर): देश में कैश की किल्लत है और सरकार का दावा है कि नोटों के सर्कुलेशन के लिए पूरी क्षमता के साथ नोटों की छपाई हो रही है। ख़बर ये है कि जल्द ही 20 हज़ार टन करेंसी पेपर इंपोर्ट किया जा सकता है। अंग्रेजी अख़बार इंडियन एक्सप्रेस की ख़बर के मुताबिक करेंसी पेपर इंपोर्ट करने के लिए अगले हफ्ते टेंडर जारी हो सकता है।

अख़बार के मुताबिक इसके लिए सरकार के रडार पर 9 विदेशी फर्म हैं। अख़बार के मुताबिक सामान्य परिस्थितियों के हिसाब से देश में 2017 तक मध्य तक करेंसी पेपर था, लेकिन नोटबंदी के बाद पैदा हुए हालात में जिस तेजी से नोटों की छपाई हो रही है उसके देखते हुए करेंसी पेपर के और स्टॉक की ज़रुरत महसूस की जा रही है और इसी लिए 20 हज़ार टन करेंसी पेपर आयात करने की तैयारी हो रही है।

वीडियो:

[embed]https://www.youtube.com/watch?v=Wukua4hmyaw[/embed]