जेटली केस में बोले केजरीवाल, मैं फीस क्यों दूं ?

नई दिल्ली (5 अप्रैल): जेटली मानहानि केस में सरकारी खजाने से वकील राम जेठमलानी को भुगतान करने के मुद्दे पर सीएम अरविंद केजरीवाल ने अपनी चुप्पी तोड़ दी है। केजरीवाल ने कहा कि मानहानि केस उनका निजी मामला नहीं है तो वह अपनी जेब से वकील का बिल क्यों भरें।


दिल्ली के सीमापुरी में एक रैली को संबोधित करते हुए केजरीवाल ने कहा कि भ्रष्टाचार के खिलाफ दिल्ली सरकार की लड़ाई को कमजोर करने के लिए पूरा विवाद पैदा किया जा रहा है। हालांकि पिछले साल केजरीवाल ने दिल्ली हाई कोर्ट के सामने अपने खिलाफ जेटली द्वारा आपराधिक मानहानि की शिकायत को इस आधार पर खत्म करने की मांग की थी कि वह निजी है।


जस्टिस पीएस तेजी ने केजरीवाल की उस याचिका को खारिज कर दी थी, जो जेटली द्वारा दर्ज कराई गई आपराधिक मानहानि की शिकायत में ट्रायल कोर्ट की तरफ समन जारी किए जाने के खिलाफ दाखिल की गई थी। बीते साल 19 अक्टूबर को दिए कोर्ट के इस फैसले में सीएम की ओर से की यह मांग किस आधार पर की गई, उसका ब्योरा दर्ज है।


बता दें कि जेटली ने केजरीवाल के खिलाफ आपराधिक मानहानि के अलावा दीवानी मुकदमा दायर किया है। दीवानी केस के तहत उन्होंने हर्जाने की मांग की है, जबकि आपराधिक मानहानि के केस में वह केजरीवाल को सजा दिलाने के लिए मुकदमा लड़ रहे हैं।