टीम इंडिया के हर खिलाड़ी से 10,000 रूपए लेते थे कप्तान धोनी ! जानें वजह

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली ( 15 मई):  टीम इंडिया के पूर्व मेंटल कंडीशनल कोच पैडी अप्टन ने अपनी किताब 'द बेयरफुट' में कई खुलासे किए हैं, जिनमें पूर्व सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर पर को लेकर कही गई विवादास्पद बात भी शामिल है। 

-हाल ही में अप्टन ने पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के बारे में भी एक खुलासा किया है। अप्टन ने कोलकाता में अपनी किताब के लॉन्च इवेंट में धोनी की मानसिक मजबूती को लेकर एक रोचक बात बताई। उन्होंने बताया कि कैसे धोनी ने टीम इंडिया के साथी खिलाड़ियों को देर से आने से रोकने के लिए दिलचस्प सजा देने की सलाह दी थी।

-अप्टन ने अपनी इस किताब में महेंद्र सिंह धोनी के बारे में भी दिलचस्प खुलासे किए हैं। जिसमें से उन्होंने एक खुलासा करते हुए लिखा है कि जब खिलाड़ी लेट आते थे तो धोनी ने उनको सजा के रूप में 10,000 रुपए जुर्माना भरने का प्रस्ताव की बात भी कही थी।

-अप्टन ने अपनी इस किताब में लिखा 'जब मैं टीम में शामिल हुआ तो टेस्ट टीम के कप्तान अनिल कुंबले (Anil Kumble) थे और वनडे टीम के कप्तान एमएस धोनी (MS Dhoni) थे। हमारे पास एक बहुत ही स्वशासित प्रक्रिया थी। इसलिए हमने टीम से कहा 'क्या अभ्यास और टीम की बैठकों के लिए समय पर होना महत्वपूर्ण है?' सभी ने कहा कि हां।।। तो हमने उनसे पूछा कि अगर कोई समय पर नहीं है, तो क्या करना चाहिए? हमने अपने और खिलाड़ियों के बीच चर्चा की और आखिरकार इसे तय करने के लिए कप्तान पर छोड़ दिया गया।'

-इसके बाद कुंबले देर से आने के लिए एक खिलाड़ी पर 10,000 रुपए का जुर्माना लगाने की सलाह देते हैं तो वहीं धोनी ने उसी सजा में एक नया पहलू जोड़ दिया। अप्टन ने कहा, टेस्ट टीम में अनिल कुंबले ने कहा कि जो व्यक्ति देर से आएगा उसे दस हजार रुपए जुर्माना देना होगा फिर हमने वनडे टीम के कप्तान धोनी के साथ बातचीत की। उन्होंने कहा कि देर से आने के लिए जुर्माना होना चाहिए। अगर किसी को देर से आएगा तो हर किसी को दस हजार रुपए जुर्माना अदा करना होगा! उसके बाद वनडे टीम का कोई खिलाड़ी कभी देर से नहीं आया।'