अखिलेश यादव बोले, गठबंधन की राजनीति में किसी को नाराज नहीं कर सकते

न्यूज24 ब्यूरो, नई दिल्ली ( 20 जून ): समाजवादी पार्टी के अध्‍यक्ष और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा है कि वह 2019 के लोकसभा चुनावों में किसी को भी नाराज किए बिना बीजेपी के खिलाफ अन्य विपक्षी पार्टियों को एक साथ लाएंगे। पूर्व मुख्यमंत्री ने दिल्‍ली में पत्रकारों से कहा, राजनीति में हम किसी को नाराज नहीं कर सकते। हम 2019 के लोकसभा चुनावों में बीजेपी का मुकाबला करने के लिए अन्य दलों के साथ गठबंधन करने के लिए तैयार हैं।उन्होंने कहा कि बीजेपी को हराने के लिए कुछ सीटें दूसरे दलों को दी जा सकती हैं। उन्होंने कहा, मकसद बीजेपी को हराना है। कैराना (लोकसभा उपचुनाव) की तर्ज पर हमारे उम्मीदवार अन्य दलों के प्रतीक चिह्न पर लड़ सकते हैं। यादव ने कहा कि यह कहना मुश्किल है कि उनकी पार्टी मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव अकेली लड़ेगी या गठबंधन के तौर पर।अखिलेश ने कहा, लेकिन हम निश्चित तौर पर चुनाव लड़ेंगे। उन्होंने दिल्ली के प्रवास के दौरान कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से मुलाकात करने की बात खारिज की। उन्होंने कहा, मैं यहां किसी से मिलने नहीं आया। मेरा ऐसा कोई कार्यक्रम नहीं है।बता दें कि 2019 में बीजेपी के खिलाफ मोर्चा बनाने में लगी सपा ने संकेत दिया है कि वह महागठबंधन में कांग्रेस को शामिल करने की इच्छुक नहीं है। सूत्रों के अनुसार एसपी कांग्रेस को केवल रायबरेली और अमेठी की सीट देना चाहती है। सपा के इस संकेत से उत्तर प्रदेश में महागठबंधन बनाने की कवायद को झटका लगता दिख रहा है।