अब शौचालय का नाम होगा 'इज्जत घर', केंद्र सरकार ने राज्यों को लिखी चिट्ठी

नई दिल्ली (18 अक्टूबर): केंद्र की मोदी सरकार की महत्वकांक्षी योजना स्वच्छ भारत अभियान के तहत बने शौचालयों का नाम बदलकर ‘इज्जत घर’ रखा जा सकता है। वहीं अन्य भाषाई विविधता वाले क्षेत्रों में इसी के बराबर सम्मानित नाम रखा जा सकता है। 

दरअसल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बीते महीने अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी दौरे पर नए शौचालय का नाम ‘इज्जत घर’ रखे जाने की काफी सराहना की थी। जिसके चलते 16 अक्टूबर को केंद्र ने सभी राज्यों को पत्र लिखकर सुझाव दिया कि शौचालयों को ‘इज्जत घर’ कहा जाए। पत्र में भाषाई विविधता वाले क्षेत्रों में इसी के बराबर सम्मानित नाम रखने का सुझाव भी दिया गया है।

ये सुझाव ऐसे समय में आया है जब पेय जल और स्वच्छता मंत्रालय द्वारा उत्तर प्रदेश में शौचालयों का नाम इज्जत घर रखा जा रहा है। दूसरी तरफ केंद्र के पत्र में आगे लिखा गया कि ऐसा करना अच्छा है जो शौचालय के लिए पूरे परिवार में गरिमा और अभिमान पैदा करता है। और इसके इस्तेमाल पर भी सकारात्मक प्रभाव पड़ता है। इसलिए ऐसा माना जा रहा है कि भारत के अन्य हिस्सों में भी शौचालय का नाम ‘इज्जत घर’ की तर्ज पर रखा जा सकता है।