मोदी सरकार ने दी नए एम्स निर्माण को मंजूरी, आवंटित किए 14,832 करोड़

नई दिल्ली (2 मई): प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षा में हुई कैबिनेट बैठक में कई बड़े फैसलों पर सरकार ने मुहर लगाई। इस योजना में नए एम्स का निर्माण और सरकारी मेडिकल कॉलेजों को अपग्रेड करने के लिए 14,832 करोड़ रुपये आवंटन किए गए। वहीं स्वास्थ्य सुरक्षा योजना की अवधि को बढ़ाकर 2019-20 तक कर दिया गया।आपको बता दें कि नए एम्स का निर्माण, परिचालन और रखरखाव का खर्च केंद्र सरकार वहन करती है। जबकि केंद्र और राज्य सरकारों के बीच हिस्सेदारी के आधार पर अस्पतालों में आधुनिक ब्लॉक और ट्रॉमा सेंटर के निर्माण, उपकरणों की खरीद तथा नई सुविधाओं का विकास किया जाता है। कैबिनेट की बैठक के बाद मोदी सरकार की तरफ से बताया गया कि नए एम्स के निर्माण से करीब 3000 से ज्यादा लोगों को रोजगार मिलेगा।वहीं केंद्रीय मंत्रिमंडल ने नई दिल्‍ली के नजफगढ़ में 100 बिस्‍तरों के सामान्‍य अस्‍पताल निर्माण को मंजूरी दी है। इस पर 95 करोड़ रुपये का अनुमानित खर्च आएगा।इन दूसरी योजनाओं को भी मिली मंजूरी- कारोबारी विवाद के शीघ्र निपटारे के लिए कानून में संशोधन को मंजूरी।- देश के चार एयरपोर्ट को अपग्रेड करने पर भी सहमति बनी है। इनमें लखनऊ, चेन्नै और गुवाहाटी के एयरपोर्ट शामिल हैं। लखनऊ में 88,000 स्क्वेयर मीटर का एक और टर्मिनल बनाया जाएगा। इससे स्थानीय और इंटरनैशनल ट्रैफिक को हैंडल करने में आसानी होगी। इसके अलावा चेन्नै और गुवाहाटी एयरपोर्ट पर भी नए टर्मिनल बनाने की योजना को अनुमति मिली है।- मंत्रिमंडल ने कृषि क्षेत्र में छतरी योजना ‘हरित क्रांति-कृषोन्‍नति योजना’को जारी रखने की स्‍वीकृति दी है। इस योजना के लिए 33,273 करोड़ रुपये तय किए गए हैं।