परंपरा से हट कर 1 फरवरी को पेश हो सकता है अगला बजट !

नई दिल्ली (20 सितंबर):वित्त मंत्रालय ने संसद के बजट सत्र में बड़ा बदलाव करने का एक प्रस्ताव तैयार किया है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, बुधवार को कैबिनेट की हो रही एक अहम बैठक में आम बजट में रेल बजट के विलय के प्रस्ताव परचर्चा होगी। अगर इस प्रस्ताव को कैबिनेट की मंज़ूरी मिल जाती है तो अगले साल से रेल बजट अलग से पेश नहीं होगा।

वित्त मंत्रालय की तरफ से तैयार कैबिनेट नोट के मुताबिक कैबिनेट की बैठक में आम बजट को परंपरा से हटकर 1 फरवरी को पेश करने की बात कही गयी है। मंत्रालय ने कैबिनेट के सामने बजट सत्र को फरवरी के बजाय जनवरी के आखिरी हफ्ते में पेश करने का प्रस्ताव कैबिनेट के सामने रखा है। एनडीए सरकार की तैयारी 1 अप्रैल से पहले बजटीय प्रस्तावों को संसद की मंज़ूरी दिलाने की है।