डांडी यात्रा के थीम पर होगा बुलेट ट्रेन का साबरमती स्टेशन


कुंदन सिंह, नई दिल्ली (13 अप्रैल):
मोदी सरकार ने अहमदाबाद से मुंबई तक चलने वाली देश की पहली बुलेट ट्रेन का खाका पूरी तरह से तैयार कर लिया है। इसके लिए बुलेट ट्रेन के पहले टर्मिनल का डिजाइन भी तैयार कर लिया गया है।

अहमदाबाद के पास साबरमती स्टेशन का मॉडल डांडी यात्रा के थीम पर तैयार किया गया है। इस स्टेशन के बनाने में ढाई सौ करोड़ रुपए की लागत आएगी। इस स्टेशन में 1500 से 2000 तक गाड़ियों की पार्किंग समेत तमाम ऑफिस होंगे। इसमें इन ट्रेनों के संचालन के लिए कंट्रोल रूम भी बनेगा।

ये होगी खासियत...
- 320 किलोमीटर की अधिकतम स्पीड से चलते बुलेट ट्रेन 2 घंटे में अहमदाबाद से मुंबई की दूरी तय करेगी।

- इस पूरे रुट में ठाणे से मुंबई के बीच 21 किलोमीटर की समुंद्र के बीच में चलने वाली ट्रेन की टनल समुंद्र तल के 25 से 30 मीटर नीचे से गुजरेगी।
- अहमदाबाद और मुंबई के बीच में चलने वाली बुलेट ट्रेन ना केवल अहमदाबाद और मुंबई के बीच की दूरी कम करेगी।
- मुंबई से बांद्रा कुर्ला कॉन्प्लेक्स की दूरी मात्र 12 मिनट के अंदर ढाई सौ रुपए किराया देकर लोग पूरा कर सकेंगे।
- पूरे प्रोजेक्ट में करीब 3000 लोगों की टीम करेगी। वही कंस्ट्रक्शन के दौरान 40 से 50 हज़ार लोग काम करेंगे।
- इस पूरे रूट में ट्रेन के अधिकतम स्पीड साडे 300 किलोमीटर की होगी, वहीं औसत 200 किलोमीटर की स्पीड से यह मुंबई से अहमदाबाद की दूरी तय करेगी।
- सब कुछ समय से चला दो प्रोजेक्ट पर 2022 अगस्त तक काम पूरा कर लिया जाएगा।

नेशनल हाई स्पीड रेल कारपोरेशन लिमिटेड ने बताया कि इसके लिए दिसंबर तक भूमि अधिग्रहण का काम पूरा कर लिया जाएगा और 2018 के अंत तक निर्माण का काम शुरू हो जाएगा। दुर्घटना को लेकर जीरो टॉलरेंस की पॉलिसी अपनाने वाली जापान की बुलेट ट्रेन के तर्ज के भारत में बुलेट ट्रेन चलाने के लिए भारतीय रेलवे 360 लोगों को विशेष ट्रेनिंग के लिए जापान में ट्रेनिंग कराएगी।

इतना होगा किराया...
- बुलेट ट्रेन में अहमदाबाद और मुंबई के बीच का किराया 3000 रुपये होगा।
- बिजनेस क्लास का दोगुना यानी 6 हज़ार के करीब होगा।