बुलंदशहर गैंगरेप: IPS ऑफिसर बनना चाहती है नाबालिग पीड़ित

नई दिल्ली (4 अगस्त): "मैं एक आईपीएस ऑफिसर बनना चाहती हूं।" यह ख्वाहिश है बुलंदशहर गैंगरेप की 14 वर्षीय पीड़ित की। बुधवार को अपनी इस ख्वाहिश का इज़हार किया। पीड़ित लड़की ने पुलिस की तरफ से भेजे गए एक एनजीओ के दो काउंसलर्स को अपना दोस्त बना लिया है। वह अपनी आपबीती के नतीजों से बिल्कुल अनजान है।

- 'टाइम्स ऑफ इंडिया' की रिपोर्ट के मुताबिक, पी़ड़ित लड़की से मिलने के लिए जब भी कोई नेता उसके घर जाता, तो उसे अपना चेहरा छिपाने के लिए कहा जाता। जिसके लिए वह असहज रही। - एक काउंसलर ने नाम ना बताने की शर्त पर बताया, "हम परिवार के साथ सहानुभूति बरतने की कोशिश कर रहे हैं। जिससे कि पीड़ित परिवार अपने दर्द को हमारे साथ बांट सकें।" - गाजियाबाद कॉलोनी में उनके घर में कुछ लोगों को ही जाने दिया गया। इनमें सादा कपड़ों में एक पुलिसकर्मी भी था।