बुलंदशहर गैंगरेप: ऐसे रहम की भीख मांगते दिखे आरोपी

नई दिल्ली (9 अगस्त): एनएच-91 पर मां-बेटी से गैंगरेप करने वाले आरोपियों की जब कोर्ट में पेशी हुई तो वह रहम की भीख मांगते दिखाई पड़े। हालांक‍ि कोर्ट ने तीन आरोपियों में से दो को तीन दिन की पुलिस रिमांड पर भेज दिया।

क्या है मामला: - 29 जुलाई की रात नोएडा से शाहजहांपुर जा रहे परिवार को एनएच-91 पर बंधक बनाकर 7-8 लोगों ने मां-बेटी के साथ गैंगरेप किया। - पीड़ित परिवार की शिनाख्त पर पुलिस ने सुतारी निवासी रईस, हापुड़ निवासी शावेज और रबूपुरा निवासी जबर सिंह को गिरफ्तार किया था। - दोनों को कड़ी सुरक्षा के बीच अपर जिला व सत्र न्यायाधीश फास्ट ट्रैक कोर्ट संख्या द्वितीय (पॉक्सो एक्ट) के पीठासीन अधिकारी ध्रुव कुमार तिवारी के न्यायालय में पेश किया गया। - रिमांड पर बहस होने के बाद न्यायाधीश ने दोनों को 72 घंटे की रिमांड पर भेजने का फैसला दिया। अब पुलिस जबर व शावेज से उगलवाएगी और बाकी आरोपियों का पता।

बेटी की बिगड़ी तबियत... - किशोरी की तबियत खराब होने के कारण गैंगरेप पीड़िता मां-बेटी सोमवार को मजिस्ट्रेट के सामने बयान देने बुलंदशहर नहीं पहुंचीं। - पिता के अनुसार पूरी तरह ठीक होने के बाद ही अब वह लोग बयान दर्ज कराने जाएंगे। - उधर, सोमवार को पीड़ित परिवार के घर काउंसलर भी नहीं पहुंचे, जिस पर पिता ने संतुष्टि जताई।