... इस मायने में खास है साल 2017-2018 का आम बजट

नई दिल्ली (1 फरवरी): वित्त मंत्री अरुण जेटली ने नोटबंदी के बाद और 5 राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले साल 2017-2018 का आम बजट संसद में पेश कर दिया है। यह पहली बार है जब बजट 1 फरवरी को पेश किया गया। इससे पहले बजट 28 या 29 फरवरी को पेश होता था। यही नहीं वित्त मंत्री अरुण जेटली का भी यह चौथा बजट है। साथ ही 92 साल में पहली बार रेल बजट अलग से पेश नहीं हो रहा है। इस बार रेल बजट आम बजट का ही हिस्सा है।