बोलीं मायावती, सहारनपुर हिंसा के लिए भाजपा सरकार है दोषी

नई दिल्ली (24 मई ): सहारनपुर हिंसा को लेकर बसपा सुप्रीमो और यूपी की पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने योगी सरकार पर हमला करते हुए आरोप लगाया है कि भाजपा और आरएसएस के शरारती तत्व जातिवादी हिंसा पर उतारू हो गए हैं। साथ ही कहा कि हिंसा के पीछे जिला प्रशासन और भाजपा के समर्थकों की मिलीभगत थी। उन्होंने कहा कि इस संबंध में आज शाम को बसपा का एक प्रतिनिधिमंडल सीएम योगी आदित्यनाथ से मुलाकात करेगा।

बसपा की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती ने बुधवार को जारी बयान में कहा कि भाजपा और आरएसएस के शरारती तत्व जातिवादी हिंसा पर उतारू हो गए हैं। सहारनपुर में हिंसा इसी का परिणाम है।

मायावती ने कहा कि मंगलवार को शब्बीरपुर गांव के दौरे में उन्होंने सर्व समाज के लोगों से शांति व आपसी भाईचारे की अपील की थी लेकिन उनके लौटने के बाद जिला प्रशासन की मिली भगत से भाजपा समर्थक लोगों ने दलितों पर जानलेवा हमला किया, जिसमें एक की जान चली गई। कई अन्य की हालत गंभीर है।

उन्होंने इस संबंध में बसपा के चार वरिष्ठ पदाधिकारियों राष्ट्रीय महासचिव सतीश चंद्र मिश्र, प्रदेश अध्यक्ष राम अचल राजभर, विधानसभा में बसपा के नेता लालजी वर्मा और पूर्व मंत्री इंद्रजीत सरोज को सीएम योगी से मुलाकात करने के लिए अधिकृत किया है।

आज शाम 6.30 बजे ये मुलाकात होगी और ये नेता सीएम से कल की घटना को लेकर सख्त कानूनी कार्रवाई व पीड़ितों को उचित मुआवजा देने की मांग करेंगे। साथ ही घायलों का नि:शुल्क इलाज की मांग भी की जाएगी।

मायावती ने कहा कि शब्बीरपुर गांव का आयोजन भाजपा की सरकार को अच्छा नहीं लगा। इनके इशारे पर ही जिला प्रशासन ने न तो उन्हें हेलीकॉप्टर से वहां जाने की इजाजत दी और न ही गांव में सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए।