मायावती को कहे अपशब्द के विरोध में उतरे बसपा कार्यकर्ता खुद दे रहे गाली

नई दिल्ली (21 जुलाई): मायावती के लिए दिए गए दयाशंकर सिंह के बयान के विरोध में बसपा कार्यकर्ताओं ने जमकर गालियां दीं। बसपा विधायक ऊषा चौधरी ने कहा कि दयाशंकर सिंह के डीएनए में कुछ गड़बड़ी है। मुझे लगता है कि वह अवैध संतान हैं।  

उन्होंने कहा कि दयाशंकर सिंह ने जो कहा, मुझे लगता है उनका परिवार वैसा ही है। इससे पहले मायावती ने कहा कि अगर बीजेपी नेताओं ने खुद दयाशंकर के खिलाफ FIR कराई होती तो वे मेरा दिल जीत लेते। बीजेपी नेता उमा भारती ने कहा कि मायावती को दयाशंकर के कॉमेंट को चुनावी हथकंडे के तौर पर इस्तेमाल नहीं करना चाहिए। 

लखनऊ में हो रहे प्रदर्शन में बीएसपी समर्थकों ने जैसी तख्तियां लेकर प्रदर्शन किया है और जैसी नारेबाजी की है, उसे लेकर सवाल उठने लगे हैं कि क्या बदजुबानी के बदले बीएसपी भी अपशब्दों और बदजुबानी की सियासत नहीं कर रही है। हालांकि मायावती ने अपने समर्थकों के बचाव में यहां तक कह डाला कि दलित समुदाय के लोग देश भर में उन्हें देवी की तरह मानते हैं। लिहाजा उनका गुस्सा जायज है। सवाल ये है कि मायावती का खुद को देवी बताते हुए अपने समर्थको की बदजुबानी का बचाव करना कितना सही है।