बशीरहाट-दार्जिलिंग हिंसा पर बोलीं ममता, केंद्र पर सहयोग न देने का लगाया आरोप

नई दिल्ली ( 8 जुलाई ): पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने दार्जिलिंग में जारी अशांति और बशीरहाट में हुई हिंसा को लेकर केंद्र की मोदी सरकार पर जमकर हमला बोला। उन्होंने केंद्र सरकार पर पर्याप्त सहयोग न देने का आरोप लगाया। उन्होंने अशांति और हिंसा के पीछे साजिश का भी आरोप लगाया। मुख्यमंत्री ने कहा कि वह बशीरहाट में हुई हिंसा की न्यायिक जांच की सिफारिश करेंगी। उधर, नॉर्थ 24 परगना जिले के एसपी भास्कर मुखर्जी को हटा दिया गया है। सी सुधाकर को नया एसपी बनाया गया है। इसके अलावा, 10 आईपीएस अफसरों का तबादला कर दिया गया है।

ममता ने आरोप लगाया कि केंद्र सरकार अपने खिलाफ विरोध करने वाली हर पार्टी को निशाना बना रही है। इसके लिए उन्होंने लालू के ठिकानों पर हुई छापेमारी का भी उदाहरण दिया। ममता बनर्जी ने आरोप लगाया कि संघीय ढांचे को नुकसान पहुंचाया जा रहा है। उन्होने नोटबंदी और जीएसटी के फैसलों की भी कड़ी निंदा की। उन्होंने नोटबंदी को भारत का सबसे बड़ा फ्रॉड बताया। उन्होंने इन फैसलों की तुलना इंदिरा गांधी सरकार के दौरान नसबंदी के अभियान से की।

उन्होंने सीआरपीएफ की तैनाती का मुद्दा उठाया। ममता ने कहा कि कश्मीर जल रहा है, एमपी में किसान मर रहा है लेकिन बीजेपी हिंसा रोकने में सक्षम नहीं है। यह भी आरोप लगाया कि सोशल मीडिया के जरिए लोगों को भड़काने की कोशिश की जा रही है। बांग्लादेशी और भोजपुरी फिल्म के सीन को बंगाल का बताकर सोशल मीडिया पर सर्कुलेट किया जा रहा है।