बीएसएफ और पाकिस्तान रेंजर्स की फ्लैग मीटिंग, सीमा पर गोलीबारी रोकने पर सहमति

नई दिल्ली ( 5 जून ): पाकिस्तान की अपनी नापाक हरकतों से बाज नहीं आ रहा है। पाक की तरफ से सीमा पर लगातार गोलीबारी की जा रही है।  सीजफायर उल्लंघन की वारदातों के बाद उपजे हालात के बीच बॉर्डर सिक्यॉरिटी फोर्स (बीएसएफ) और पाकिस्तान रेंजर्स के बीच सोमवार शाम को फ्लैग मीटिंग हुई है। यह मीटिंग बिना किसी पूर्वनिर्धारित कार्यक्रम के हुई और इसमें दोनों ही पक्ष सीमा पर शांति बनाए रखने और फायरिंग रोकने पर सहमत हुए।मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक पाकिस्तानी रेंजर्स बातचीत के लिए तब मजबूर हुए जब बीएसएफ ने सीमापार से पिछले 4 दिनों से हो रही गोलीबारी और गोलाबारी का मुंहतोड़ जवाब देते हुए पाकिस्तानी रेंजर्स की कई चौकियों को उड़ा दिया। पाकिस्तानी गोलीबारी से अंतरराष्ट्रीय सीमा पर खासकर जम्मू में हजारों ग्रामीण प्रभावित हुए हैं।बीएसएफ प्रवक्ता की तरफ से जारी किए गए बयान में बताया गया कि बीएसएफ और पाक रेंजर्स की सेक्टर कमांडर स्तर की बैठक शाम साढ़ें 5 बजे हुई। बैठक सौहार्दपूर्ण माहौल में हुई और मुख्य फोकस सीमा पर शांति और स्थिरता बनाए रखना था।बीएसएफ प्रवक्ता ने कहा, 'आज की बैठक से दोनों ही पक्षों के सीमावर्ती गांवों में फायरिंग-मुक्त माहौल बनाने में मदद मिलेगी। दोनों ही पक्षों के कमांडरों ने दोनों फोर्सेज के बीच विश्वास पैदा करने के लिए बातचीत को हर स्तर पर जारी रखने पर सहमति दी।'बताया जा रहा है कि बैठक के दौरान पाकिस्तानी पक्ष ने कहा कि वह सीमापार फायरिंग की शुरुआत नहीं करेंगे, जिस पर बीएसएफ ने कहा कि वह सिर्फ उकसावे के बाद जवाबी कार्रवाई करेगी।दोनों ही पक्षों ने 21 जून को अगली सेक्टर कमांडर स्तर की बैठक बुलाने का फैसला लिया। सोमवार की बैठक ऐसे वक्त में हुई जब एक दिन पहले ही पाकिस्तान की फायरिंग में बीएसएफ के 2 जवान शहीद हुए थे।इससे पहले 29 मई को पाकिस्तान के अनुरोध पर भारत और पाक के बीच डीजीएमओ (डायरेक्टर जनरल ऑफ मिलिटरी ऑपरेशंस) स्तर की बातचीत हुई थी जिसमें दोनों ही पक्ष सीजफायर को पूरी तरह लागू करने पर सहमत हुए थे। हालांकि पाकिस्तानी बल उस प्रतिबद्धता की धज्जियां उड़ा रहे हैं।एक अधिकारी ने बताया कि बीएसएफ का आकलन है कि पाकिस्तान रेंजर्स का एक खास कमांडर अपने सीनियर्स की बात को अनसुना कर रहा है और संभवतः नॉन-स्टेट ऐक्टर्स के साथ मिलकर पिछले 3-4 दिनों से गोलीबारी करा रहा है।