BSF का बदला, दागे 9,000 मोर्टार, पाकिस्तान की चौकियां और तेल डिपो तबाह, देखें वीडियो

नई दिल्ली ( 22 जनवरी ): पाकिस्तान की नापाक गोलीबारी का बीएसएफ और सेना ने मुहतोड़ जवाब दिया है। बता दें पिछले कुछ दिनों से पाकिस्तान लगातार संघर्ष विराम का उल्लंघन कर रहा है। पाक सेना निर्दोष नागरिकों को भी निशाना रही है। ऐसे में पिछले चार दिनों में बीएसएफ ने जम्मू में अंतरराष्ट्रीय सीमा पर पाकिस्तान के ठिकानों पर 9,000 राउंड मॉर्टार दागे हैं। खास बात यह है कि बीएसएफ ने टारगेट कर जवाबी कार्रवाई की है जिससे पाकिस्तान को भारी नुकसान हुआ है। अधिकारियों ने सोमवार को बताया कि पाकिस्तान रेंजर्स के तेल डिपो और कई फायरिंग पोजिशंस को तबाह कर दिया गया है।

सीमा सुरक्षा बल (BSF) और गृह मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारियों ने जानकारी दी कि जम्मू में 190 किमी लंबी अंतरराष्ट्रीय सीमा पर हालात काफी तनावपूर्ण हैं। पाकिस्तान की ओर से रविवार शाम से ही पूरे इलाके में भारी गोलीबारी की जा रही है। अधिकारियों ने बताया कि पाकिस्तान ने पहले शांति भंग की और BSF की चौकियों व रिहायशी इलाकों को निशाना बनाना शुरू किया। 

इसके बाद BSF ने 19 जनवरी से अब तक 9,000 राउंड मॉर्टार दागे हैं। उन्होंने कहा कि मॉर्टार के साथ दूसरे हथियारों से भी मुंहतोड़ जवाब दिया जा रहा है। BSF ने कहा कि फोर्स टारगेट बनाकर फायरिंग कर रही है, जिससे पाक रेंजर्स की कई फायरिंग पोजिशंस, मॉर्टार लॉन्चिंग पैड्स, हथियार और तेल डिपो को नष्ट कर दिया गया है। फोर्स ने दो विडियो भी जारी किए हैं, जिसमें तेल डिपो के तबाह होने की तस्वीर दिखाई देती है। 

#WATCH Retaliatory operation by Border Security Force against Pakistan Rangers along International Border in Jammu region (Source: BSF) pic.twitter.com/t9HLALaSWO

— ANI (@ANI) January 22, 2018

उन्होंने कहा कि जम्मू सीमा का ‘चिकेन नेक’ इलाका भी पाकिस्तानी बलों की गोलाबारी का निशाना बना है जो अब तक इससे अछूता था। यह जगह बीएसएफ की मकवाल और कानाचक सीमा चौकी के पास है। एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि इन इलाकों में सुरक्षा बल का एक जवान और कुछ नागरिक घायल हुये हैं। यहां कल से ही पाकिस्तान की तरफ से भारी फायरिंग की जा रही है।

सूत्रों ने कहा कि भारतीय बलों ने सीमा पार अग्रिम चौकियों पर रेंजर्स और पाकिस्तानी सेना के वरिष्ठ कमांडरों की आवाजाही भी देखी है। अधिकारियों ने कहा कि जहां तक हम समझते हैं यह दौरा पाकिस्तानी कमांडरों ने अपने सैनिकों का उत्साह बढ़ाने के लिये किया है जिन्हें भारत की जवाबी कार्रवाई में भारी नुकसान हुआ है। यह भी समझा जा सकता है कि भारत की कार्रवाई में उनके कई जवान हताहत हुये हैं। उन्होंने कहा कि पाक रेंजर्स ने बीएसएफ से बातचीत और फ्लैग मीटिंग से अब तक इनकार किया है।