बहू अपने जीजा के साथ कमरे में थी, सास ने देखा तो...

नई दिल्ली(7 जुलाई): शादी को अभी कुछ ही दिन ही हुए थे। ससुराल में नई-नई आई थी, लेकिन जो कारनामा उससे किया बड़े-बड़े चौंक जाएं। ये महिला ससुराल में जीजा के संग रंगरेलियां मना रही थी। सास ने देख लिया तो विवाद होने की स्थिति में बहू ने सास को कमरे में बंद कर प्रेमी जीजा के साथ मिलकर मौत के घाट उतार दिया।

महिला ने पूरी घटना को छिपाने की कोशिश की। पूरे मामले पर पर्दा पुलिस ने एक सप्ताह बाद उठा दिया। आरोपी बहू और प्रेमी जीजा दोनों अब जेल पहुंच गए हैं। ये घटना मध्य प्रदेश के सागर बेहरोल थाना क्षेत्र के सगोरिया गांव की है। 26 जून को दोपहर गजराज लोधी की पत्नी प्रेमबाई के सिर पर गहरी चोट आने से उसे जिला अस्पताल इलाज के लिए लाया गया था।

इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। थाना प्रभारी  के मुताबिक घटना स्थल का निरीक्षण करने कर मामला संदेहास्पद लग रहा था। एफएसएल और पीएम रिपोर्ट में घटना स्थल को लेकर संदेह था। मृतका की मंझली बहू नीतू ने अपने बयान में बताया था कि 24 जून को दोपहर 3 बजे बाई यानी सास प्रेमबाई को बैल ने मार दिया।

वह मकान के बाहर आकर रो-रोकर परिवार व पडौसियों को बताने लगी कि बाई को बैल ने सींग मार दिया है, सिर में गहरा घाव आया है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट और एफएसएल रिपोर्ट अलग-अलग होने से मामला संदेहास्पद लग रहा था। मर्ग कायम कर अज्ञात लोगों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज किया गया। पुलिस का संदेह नीतू पर जा रहा था।

थाना प्रभारी पाठक ने बताया महिला पुलिस की मदद से नीतू से पूछताछ की गई। वह बताती रही कि बैल का सींग लगने से सास की मौत हुई थी। वह पुलिस को गुमराह करती रही। सख्ती करने पर नीतू ने पुलिस को घटना की सच्चाई उजागर कर दी। उसने बताया नौपाल उर्फ लोकपाल लोधी बड़ी बहन का पति, रिश्ते में जीजा है। दोनों के मकान गांव में आसपास में है। नौपाल का नीतू के घर अक्सर आना-जाना था

इस दौरान दोनों के बीच संबंध बन गए। 26 जून को दोपहर 2.30 बजे सास प्रेमबाई ने दोनों को कमरे में आपत्तिजनक स्थिति में देख लिया था। रहस्य उजागर न हो इसलिए नीतू ने कमरे का दरवाजा अंदर से लगा दिया। नौपाल उर्फ लोकपाल ने गेंती उसके सिर पर मार दी जिससे सिर में गहरा घाव आ गया। घटना के बाद नौपाल पीछे के दरवाजे से भाग गया। बाद में नीतू कमरे से बाहर आई और चिल्लाने लगी कि बाई को बैल ने मार दिया है।