थेरेसा मे की ट्रंप के साथ मुलाकात, कहा- नाटो के समर्थन में अमेरिकी राष्ट्रपति

नई दिल्ली(28 जनवरी): अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने ब्रिटिश प्रधानमंत्री टेरीजा मे के साथ मुलाकात की और ब्रेग्जिट की सराहना करते हुए कहा कि इससे ब्रिटेन को उसकी खुद की पहचान मिलेगी। राष्ट्रपति की शपथ लेने के बाद किसी विदेशी नेता के साथ ट्रंप की पहली शिखर बैठक थी।

संयुक्त संवाददाता सम्मेलन में ट्रंप ने यूरोपीय संघ से बाहर निकलने के ब्रिटेन के फैसले के प्रति अपना समर्थन दोहराया और कहा, ‘एक मुक्त और स्वतंत्र ब्रिटेन दुनिया के लिए वरदान है और हमारे संबंध कभी इतना मजबूत नहीं रहे।’ दोनों नेताओं ने कहा कि वे अमेरिका और ब्रिटेन के कारोबारी संबंधों को मबजूत बनाने के लिए काम करेंगे।

ट्रंप ने ब्रेग्जिट का उल्लेख करते हुए कहा कि उनका मानना है कि एक बार यह हो जाने पर आप खुद की पहचान रखेंगे और आप उन लोगों को देश में रख सकेंगे जिनको चाहते हैं।

टेरीजा मे ने बताया कि ट्रंप ने नाटो के लिए 100 फीसदी समर्थन की बात कही है और उन्होंने इस साल के आखिर में ब्रिटेन का दौरा करने का उनका निमंत्रण स्वीकार कर लिया है।

ट्रंप के साथ मुलाकात से पहले टेरीजा मे ने फिलाडेल्फिया मे कहा कि सरकार से इतर तत्वों के उभरने को देखते हुए अब अमेरिका और ब्रिटेन जैसे देशों को अपने नेतृत्व को आगे बढ़ाना होगा।