ब्रिक्स सम्मेलन में उत्तर कोरिया के खिलाफ हुआ चीन और रूस, नहीं देगा साथ

शियामेन (4 सितंबर): चीन में चल रहे ब्रिक्स सम्मेलन में आज उत्तर कोरिया के सनकी तानाशाह द्वारा कल किए गए परमाणु परिक्षण की भर्तस्ना की गई है। ब्रिक्स देशों द्वारा उत्तर कोरिया के परमाणु परीक्षण की भर्तस्ना करने के बाद चीन और रूस ने भी इस मुद्दे पर तानाशाह किम जोंग को लताड़ लगाई है। ब्रिक्स सम्मेलन में साझा बयान में कहा गया है कि मसले बातचीत और शांति से ही सुलझाए जाएं। ब्रिक्स के इस साझा बयान के बाद चीन और उत्तर कोरिया के बीच दूरी बढ़ सकती है ।

आपको बता दें कि ब्रिक्स देशों के नेताओँ ने उत्तर कोरिया के परमाणु आकांक्षाओं की निंदा की है। चीन की सरकारी मीडिया ने खबर दी है कि ब्रिक्स देशों की तरफ से सम्मेलन में बयान दिया गया है कि हम कोरियाई प्रायद्वीप में जारी तनाव और लंबे समय से चले आ रहे परमाणु समस्या की कड़ी निंदा कहते हैं और इस बात पर जोर देते हैं कि इस मुद्दे को सभी संबंधित पक्षों को शांतिपूर्ण तरीके से बातचीत के जरिये हल करना चाहिए।