इस पुलिसवाले ने बचाई 20 लोगों की जान

हैदराबाद (17 जनवरी): सोमवार को हुमायूं नगर में एक बहुमंजिला इमारत में आग लगने के कारण बहुत से लोग फंस गए। लेकिन यहां पर एक पुलिसवाले भीम राव ने बहादुरी दिखाते हुए 20 लोगों की जान बचाई।

बंदोबस्त ड्यूटी पर तैनात राव को स्थानीय लोगों ने घटना की जानकारी दी और वे तुरंत घटनास्थल पर पहुंच गए लेकिन जल्द ही उन्हें इस बात का अहसास हुआ की यह काम चुनौतियों से भरा है क्योंकि पहली मंजिल पर लगी आग दूसरी मंजिल तक पहुंच चुकी थी। उन्होंने बताया, ‘जब आग लगी तो ऊपरी मंजिल पर रह रहे लोगों ने नीचे आने की बजाए ऊपर भागना शुरू किया। उन्हें नीचे लाने के लिए मुझे ऊपर जाना पड़ा।‘ उन लोगों में कई बुजुर्ग शामिल थे जो फुर्तीले नहीं थे। चीखने की आवाज सुन मैं उनकी फ्लैट की ओर भागा और उन्हें बाहर निकालना शुरू किया। इसके बाद सीढ़ियों से उन्हें सुरक्षित लेकर आया।

एरिया कार्पोरेटर, आयशा रुबिना ने बताया,’संयोग से कांस्टेबल ने किचन से गैस सिलिंडर हटा दिया। ऐसा कर उसने कइयों की जान बचायी।‘ 2009 में राव फोर्स से जुड़े थे और हाल में ही उनका ट्रांसफर चैत्रीनाका से हुमायूं नगर हुआ था। उनकी इस जांबाजी ने निगम प्रशासन व शहरी विकास मंत्री के तारक रामा राव का ध्यान खींचा। उन्होंने ट्वीटर पर डीजीपी अनुराग शर्मा को कांस्टेबल की बहादुर कारनामे की जानकारी दी। उन्होंने अपने ट्वीट में भीम राव के बहादुरी की सराहना की है।