गुरमेहर ने सहवाग और हुड्डा को दिया करारा जवाब

नई दिल्ली ( 27 फरवरी ): दिल्ली यूनिवर्सिटी के रामजस कॉलेज का मामला बढ़ता ही जा रहा है। रामजस काॅलेज में बवाल पर शहीद की बेटी

गुरमेहर कौर की फेसबुक एक पोस्ट के जरिए एबीवीपी पर वार किया था। अब इस मामले में पूर्व क्रिकेटर वीरेंद्र सहवाग के बाद एक्टर रणदीप हुड्डा भी कूद पड़े हैं।

सहवाग ने एक तस्वीर ट्वीट की थी। इसमें वे हाथ में एक तख्‍ती पकड़े होते हैं और लिखा होता है, 'मैंने नहीं मेरे बल्ले ने दो तिहरे शतक मारे थे।' उनका यह बयान गुरमेहर कौर के कैंपेन पर परोक्ष हमला था। गुरमेहर ने रामजस कॉलेज में एबीवीपी के कार्यकर्ताओं की कथित हिंसा के बाद एक कैंपेन चलाया था। इसके तहत उन्‍होंने फेसबुक पर फोटो लगाई थी जिसमें लिखा होता है, 'मैं दिल्ली विश्वविद्यालय में पढ़ती हूं। मैं एबीवीपी से नहीं डरती। मैं अकेली नहीं हूं। भारत का हर छात्र मेरे साथ है। हैशटैग स्टूडेंट्स अगेंस्ट एबीवीपी।' उनकी पोस्‍ट के बाद ट्रेंड चल पड़ा था।

रणदीप हुड्डा ने वीरेंद्र सहवाग के ट्वीट का समर्थन किया और इसे थंब्स अप दिया। इसके बाद गुरमेहर ने खुद रणदीप हुड्डा को जवाब दिया। उन्होंने ट्वीट कर बताया कि वह मोहरा नहीं है। गुरमेहर ने लिखा, राजनीति मोहरा? मैं सोच सकती हूं। मैं छात्रों पर हुई हिंसा का समर्थन नहीं कर सकती। क्या यह इतना गलत है?” हुड्डा का जवाब आया, 'मैं तुमसे सहमत हूं यह पूरी तरह गलत है। ऐसा लगता है कि यह केवल व्याख्या तक सीमित नहीं है।'