चमत्कार! महिला ने मरने के 123 दिन बाद दिया जुड़वां बच्चों को जन्म

नई दिल्ली (18 जुलाई): मां और बच्चे के बीच का रिश्ता जितना मजबूत होता है, उतना शायद ही कोई और रिश्ता होता है। एक महिला ने उन हालातों में भी अपने बच्चे को जन्म दिया, जिसमें बच्चों के जीने की उम्मीद न के बराबर थी। अपने आप में बिल्कुल अनोखा ये मामला इन दिनों सोशल साइट्स पर तेजी से वायरल हो रहा है। 

यह मामला साउथ ब्राजील का है। जहां एक महिला ने मरने के बाद जुड़वां बच्‍चों को जन्‍म देकर सभी को हैरत में डाल दिया। डॉक्‍टरों को उम्‍मीद नहीं थी कि, बच्‍चे गर्भाशय में जिंदा होंगे। लेकिन ऊपरवाले को कुछ और ही मंजूर था। आखिर में ऑपरेशन सफल रहा और महिला ने जुड़वां बच्‍चों को जन्‍म दिया। ब्राजील में रहने वाली सिल्‍वा पेडिल्‍हा पिछले साल ही गर्भवती हो गईं थीं। सिल्‍वा को ब्रेन स्‍ट्रोक की बीमारी थी और अक्‍टूबर 2016 में उन्‍हें ब्रेन डेड घोषित कर दिया गया था। सिल्‍वा की जब मौत हुई उस वक्‍त उनके गर्भ में 9 हफ्ते का बच्‍चा पल रहा था।

सिल्‍वा के पति म्‍यूरेल ने तुरंत ही सेनहोरा डो रोकियो अस्‍पताल में अपनी पत्‍नी को भर्ती करवाया। चेकअप के दौरान पता चला कि सिल्‍वा का ब्रेन डेड हो चुका है लेकिन उसके गर्भ में पल रहा बच्‍चा अभी भी सांसे ले रहा है। ऐसे में डॉक्‍टरों की टीम ने तुरंत ही सिल्‍वा को वेंटिलेटर में रख दिया और करीब 123 दिनों तक वह यहीं रहीं। बाद में जब 9 महीने पूरे हो गए तो डॉक्‍टर्स ने ऑपरेशन कर सिल्‍वा की डिलीवरी करवाई। हालांकि सिल्‍वा तो मर चुकी थीं, लेकिन उन्‍होंने जुड़वां बच्‍चों को जन्‍म दिया। उनके एक लड़की और एक लड़का हुआ।

सिल्‍वा के पति को यकीन नहीं था कि पत्‍नी के ब्रेन डेड घोषित होने के बाद भी उनके बच्‍चे जिंदा रहेंगे। खैर मेडिकल जगत में ऐसे बहुत कम ही मामले देखने को मिलते हैं। यह किसी चमत्‍कार से कम नहीं