मिसाल: मौत के बाद दे गया 7 लोगों को नई जिंदगी

नई दिल्ली(11 सितंबर): दिल्ली में मानवता की एक नई मिसाल देखने को मिली, जहां एक परिवार ने ब्रेन डेड होने के बाद अपने बेटे का अंगदान कर 7 लोगों को नई जिंदगी दी है।  हिमांशु अब इस दुनिया में नहीं है,बचपन के दोस्त के हमले का शिकार हुआ हिमांशु अपनी मौत के बाद 7 लोगों को नई जिंदगी दी है। हिमांशु के इच्छा के मुताबिक परिवार लोगों ने हिमांशु के अंगों को जरुरतमंदों को दान कर दिया है ।

एक बचपन के दोस्त के हत्यारे बनने की कहानी भी जान लीजिए। वारदात बीती 31 अगस्त की हैं। हिमांशु अपने बचपन के दो दोस्तों के साथ पार्टी करने के लिए दिल्ली-हरियाणा बॉर्डर के इस रेस्टोंरेट में गया थ। आरोपी पंकज शर्मा का हिमांशु के साथ कुछ लेन-देन था, और इसी बात को लेकर दोनों में विवाद हो गया,बात हाथापाई तक पहुंच गई, और मारपीट के दौरान हिमांशु के सिर में चोट लग गई। आरोपी पंकज मौके से फरार हो गया, अभिषेक ने हिमांशु को अस्पताल में भर्ती करवाया, जहां 6 दिन बार डॉक्टरों ने हिमांशु को ब्रेन डेड घोषित कर दिया। जिसके बाद परिवार वालों ने मानवता की जो मिसाल पेश की है, वो आप जानते ही है. बहरहाल बीते 9 सितंबर को आरोपी पंकज को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है।