पहली लड़की को देखते ही लड़कों की नज़र सीधे टिक जाती है ...

नई दिल्ली (10 अप्रैल):  अगर आप कभी किसी लड़की से मिलते हैं तो आप उस लड़की में क्‍या देखते हैं। क्‍या आप उस लड़की का चेहरा देखकर ही बातें करते हैं। अगर आप सच्चाई के साथ जवाब देंगे तो शायद नहीं। दरअसल एक रिपोर्ट के मुताबिक सिर्फ 20 फीसदी लोग पहली बार किसी लड़की से मिलने पर उसके चेहरे पर ही फोकस रखते हैं। जबकि 80 फीसदी लड़के किसी लड़की से मिलते हैं तो उनकी नजर चेहरे के ठीक नीच वाले हिस्से पर होती है। लड़के और लड़कियां सबसे ज्यादा इसी हिस्से के बारे में सोचते हैं।

दरअसल, ये वो खास अंग है जो सबसे पहले बनते हैं। मतलब ये कि भ्रूण विकास की शुरूवाती स्थिति में फेमिनिन ही होते हैं। छह हफ्ते बाद जब टेस्टोस्टेरॉन का असर शुरु होता है तब भ्रूण का सेक्स निर्धारित होता है। मगर इस स्थिति में पहुंचने से सीने के अंग बन चुके होते हैं। इसलिए पुरुष के सीने पर बने अंगों में उभार नहीं आता और स्त्रियों के अंगों में उभार उम्र के साथ शुरु हो जाता है।