OMG: दो हिस्सों में बंटा हुआ है इस बच्चे का सिर!

नई दिल्ली (11 मार्च): ईश्वर भी अजीब है वो पता नहीं क्या-क्या करता रहता है। कंबोडिया में जन्मे एक बच्चे के सिर में जन्मजात दरार है। यह दरार उसकी उम्र के साथ बढ़ती जा रही है। इस बच्चे का नाम फीक्ट्रा पोव है। जब उसका जन्म हुआ थो तो घर में खुशी के बजाए गम का माहौल हो गया। बच्चे के सिर में दरार की बात सुनकर घरवाले परेशान थे। पोव का जन्म कंबोडिया के छोटे से अस्पताल में हुआ, जहां पैसों की कमी की वजह से उसका इलाज किए बिना ही उसे घर भेज दिया गया। पैसे की कमी की वजह से उसका ऑपरेशन नहीं किया गया। 

इस अजीबोगरीब बीमारी के कारण पोव का सिर सामान्य से कही ज्यादा बड़ा हो गया है। इस बीमारी की वजह से वो न तो चल पाता है और न ही बैठ पाता है। पोव के पिता की मौत उस वक्त ही हो गई जब वो अपनी मां के गर्भ में था। अब अकेली मां और दादी उसका पालन-पोषण कर रहे है। पोव की मां किसी भी तरह से अपने बच्चे का इलाज करवाना चाहती है। उसकी दादी पोव के इलाज के लिए पैसे जमा करने के लिए अंगकोर वाट मंदिर के सामने बैठ जाती है। बच्चे को लेकर लोग उसे पैसे दे देते है। पोव की दादी कहती है कि जब वो पांच साल का था तो हमें लगता था कि उसके सिर में ज्यादा पानी भरा है इसलिए उसका सिर सामान्स से बड़ा है, लेकिन सिर की दरार धीरे-धीरे लंबी और गहरी होती जा रही है। दादी कहती है पोव के सिर की ये दरार इतनी गहरी है कि मैं आसानी से उसमें अपना हाथ डाल सकती हूं।

पोव की दादी कहती है कि लगभग 5 पाउंड एक दिन में एकत्रित हो जाते हैं। लेकिन इस बीमारी के ईलाज के लिए उन्हें बहुत पैसों की जरूरत है। डॉक्टर्स का कहना है कि उन्हें इस बीमारी के बारे में कुछ भी नहीं पता है और वह इसके लिए कुछ नहीं कर सकते हैं। स्थानीय एनजीओ के लोग उसे दवाईयों से मदद कर देते है, लेकिन पोव के ऊपर दवाईयों का कई असर नहीं हो रहा। उसकी मां और दादी चाहती है कि किसी तरह से कोई ऐसा आ जाए जो उनके बच्चे काईलाज कर उसे ठीक कर सके। हम दुआ करते है कि पोव जल्द ठीक हो सके।