चीन को उसी भाषा में भारत देगा जबाब, सीमा पर फौजें आमने-सामने

नई दिल्ली (30 जून): भारत ने चीन को उसी की भाषा में सबक सिखाने की ठान ली है। सिक्किम-भूटान-तिब्बत ट्राइ-जंक्शन पर चीन के सैनिक तैनात किये जाने के जबाब में भारत ने भी 3000 सैनिक तैनात कर दिये हैं। आर्मी चीफ जनरल बिपिन रावत ने भी गुरुवार को गैंगटोक स्थित 17 माउंटेन डिविजन और कलिमपोंग स्थित 27 माउंटेन डिविजन का दौरा कर स्थिति का जायजा लिया है। सूत्रों के मुताबिक, दोनों ने दूरवर्ती सीमा क्षेत्र पर 3-3 हजार सैनिकों को तैनात कर ट्राइ-जंक्शन में अपनी स्थिति मजबूत कर ली है।

भारतीय सेना ने हालांकि, इस पर कुछ भी कहने से इनकार किया है। सूत्र बताते हैं कि सालों से ट्राइ-जंक्शन पर सैनिक तैनात रहे हैं, लेकिन डोका ला जनरल पर सैनिकों की हाल में हुई तनाती बेहद गंभीर है। सूत्र ने कहा, 'दोनों ही अपने स्थान से हटना नहीं चाहते। दोनों विरोधी कमांडरों के बीच हुई फ्लैग मीटिंग और वार्ता का फिलहाल कोई असर नहीं हुआ है।'