प्रीति जिंटा के भाई ने की आत्महत्या

नई दिल्ली(3 दिसंबर):  बॉलिवुड एक्ट्रेस प्रीति जिंटा के मौसेरे भाई नितिन चौहान ने खुद को गोली मारकर सुसाइड कर लिया। शिमला में रहने वाले नितिन चौहान हिमुडा के वाइस प्रेसिडेंट यशवंत छाजटा के भांजे थे। उनके पिता जोगेंद्र सिंह पशुपालन विभाग से असिस्टेंट डायरेक्टर पद से रिटायर हैं। उनका घर न्यू शिमला के सेक्टर दो में एचएन बी 10 में है। 

-न्यू शिमला के सेक्टर दो में एक युवक ने खुद को गोली दागकर जान दे दी। घर के साथ लगती पार्किंग में युवक ने अपनी गाड़ी की पिछली सीट में इस वारदात को अंजाम दिया।

-युवक ने पिस्टल से कनपटी पर गोली चलाई। राइट साइड से चलाई गोली लेफ्ट साइड से बाहर निकल कर कार की सीट में फंसी मिली।

-मृतक की पहचान नितिन चौहान (36) के रूप में हुई है। नितिन पेशे से बागबान है और शिलाट (क्यारी) कोटखाई का रहने वाला था।

-पुलिस को घटनास्थल और घर पर सुसाइड नोट भी मिले हैं। चार-चार पेजों के इन सुसाइड नोट पर नितिन ने अपनी मौत के लिए पत्नी और उसके परिवार वालों को जिम्मेदार ठहराया है।

-सुसाइड नोट में युवक ने लिखा है कि उसकी पत्नी और उसके परिवारवाले उसे अक्सर तंग करते रहते हैं। उसके खिलाफ झूठे केस दर्ज किए गए हैं।

-यहां तक कि उसे अपने बेटे से भी मिलने नहीं दिया जाता है। वह अपने बेटे से बहुत प्यार करता है। नितिन का पांच साल का बेटा है, जो कि उसकी मां के साथ मायके में रहता है।

-बताया जा रहा है कि नितिन और उसकी पत्नी के बीच करीब तीन साल से अनबन चल रही है। इस कारण वह अपने मायके में रहती है। गुरुवार को भी कोर्ट से पेशी भुगत कर आया था। नितिन की शादी साल 2010 में हुई थी।

-जानकारी के मुताबिक गुरुवार शाम को नितिन खाना खाने के बाद कमरे में सोने गया था। कुछ समय बाद मां किसी काम के सिलसिले में उसके कमरे में गई लेकिन नितिन कमरे में नहीं था।

-मां ने देखा की घर के बाहर नितिन की कार भी नहीं है, इसलिए सोचा कि वह कई घूमने गया होगा और जाएगा, जिसके चलते वह भी सोने चले गईं।

-सुबह जब मां फिर चाय लेकर नितिन के कमरे में आई, तब भी वह कमरे में नहीं था और कार भी अपनी जगह नहीं थी।

-इसी बीचे किसी ने घर के पास बनी पार्किंग में कार देखी, जिसके आसपास खून था। उसके बाद परिजन कार के पास पहुंचे और शीशे से अंदर झांककर देखा तो नितिन मुंह के बल गिरा था।

-परिजनों ने पुलिस को सूचित किया। सूचना के बाद पुलिस मौके पर पहुंची और खिड़की खोलकर नितिन को बाहर निकाला। उस समय वह मृत अवस्था में था। बॉडी के नीचे पिस्टल पड़ी थी।

-चार राउंड की इस पिस्टल में तीन राउंड जिंदा मिले और एक चला हुआ मिला। पुलिस ने कार से चली हुई गोली और पिस्टल रिकवर की है। जिससे जांच के लिए फॉरेंसिक टीम ले गई है।