कुछ बोला तो पीट जाऊंगा: इमारन खान

नई दिल्ली(21 अक्टूबर): करण जौहर की 'ऐ दिल है मुश्किल' की रिलीज का विरोध कर रही शिवसेना की धमकियों के बाद बॉलिवुड एकजुट हो गया है। बॉलिवुड के कई मशहूर सिलेब्रिटीज ने जियो मामी  फेस्टिवल में पाकिस्तानी कलाकारों की एंट्री बैन करने पर अपना विरोध दर्ज कराया है

- आमिर खान के भतीजे और बॉलिवुड ऐक्टर इमरान खान कुछ न बोलकर भी इशारों में बहुत कुछ बोल गए। उन्होंने कहा, मुझे कई मुद्दों पर अपनी राय रखनी है लेकिन अगर मैं अपनी राय बता देता हूं तो कुछ लोग आकर मेरे घर को जलाने लगेंगे। इमरान ने आगे कहा कि मैं नहीं चाहता हूं कि लोग मुझे धमकाएं या पीटें इसलिए मैं कुछ नहीं बोलूंगा। मैं अपनी राय अपने तक ही सीमित रखूंगा। हालांकि मिस्टर परफेक्शनिस्ट आमिर खान ने मामले पर चुप्पी बरते रहना सही समझा।

- अपनी बात साफगोई से रखने के लिए मशहूर कल्कि कोच्चि ने कहा, 'वह किसी भी तरह की सेंसरशिप और बैन के खिलाफ हैं। किसी भी तरह की सेंसरशिप की वजह से किसी फिल्म का रिलीज न हो पाना दुखद है।'

- डायरेक्टर जोया खान भी फिल्म 'ऐ दिल है मुश्किल' की रिलीज के समर्थन में आईं। उन्होंने कहा कि करण को धमकाया जा रहा है। उसने यह फिल्म तब शूट की थी जब भारत-पाक के रिश्ते सामान्य थे। अब फिल्म की रिलीज के समय उसे धमकियां मिल रही हैं। यह बहुत ही दुखद है कि एक फिल्म निर्माता को इस तरह से निशाना बनाया जा रहा है। जोया ने पाकिस्तानी ऐक्टर फवाद खान का पक्ष भी लिया। जोया ने कहा कि फवाद ने कुछ भी गलत नहीं किया है। उसने कोई कानून नहीं तोड़ा है। कलाकारों को वीजा सरकार देती है। भारत में पाकिस्तानी कलाकार का काम करना पूरी तरह से वैधानिक है।

- फिल्म 'ऐ दिल है मुश्किल' में पाकिस्तानी कलाकार फवाद खान के होने की वजह से करण जौहर को एमएनएस की धमकियों का सामना करना पड़ रहा है।