लापता था सेना का जवान, 18 साल बाद सामने आयी ये सच्चाई !

नई दिल्ली (14 जनवरी): भारतीय सेना के एक लापता जवान का शव 18 साल बाद जम्मू एवं कश्मीर में सियाचिन ग्लेशियर में मिला। पुलिस ने कहा कि सैनिक का शव बुधवार को उत्तर प्रदेश स्थित उसके घर भेज दिया गया है। पुलिस सूत्रों ने बताया कि 15वीं राजपूत रेजीमेंट के हवलदार गया प्रसाद 1996 में सियाचिन ग्लेशियर में लापता हो गए थे।

एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया, कि हवलदार गया प्रसाद का शव कुछ दिनों पहले ग्लेशियर क्षेत्र में बर्फ के नीचे दबा पाया गया। उनका शव 18 साल बाद बरामद हुआ। अधिकारी ने कहा कि बेहद कम तापमान वाले क्षेत्र में बर्फ के नीचे दबे होने के कारण शव सुरक्षित और पूर्ण संरक्षित अवस्था में था।

सियाचिन ग्लेशियर क्षेत्र विश्व के सबसे ठंडे क्षेत्रों में से एक है जहां तापमान सामान्यत: शून्य से नीचे 45 डिग्री सेल्सियस रहता है और जाड़े के मौसम में उससे भी नीचे चला जाता है। यहां तक कि गर्मी के मौसम में भी यहां तापमान शून्य से नीचे ही रहता है।