भारत में एम2 और 330आई को लॉन्च कर सकती है बीएमडब्ल्यू

हाई परफॉर्मेंस कारों की दुनिया में बीएमडब्ल्यू की ‘एम’ रेंज एक अलग मुकाम रखती है। भारत में बीएमडब्ल्यू ‘एम-2’ को छोड़कर ‘एम’ रेंज की बाकी कारें मौजूद हैं। एक रिपोर्ट के मुताबिक कंपनी अब एम रेंज की सबसे किफायती कार ‘एम-2’ और 330आई को भारत में लॉन्च करने का विचार बना रही है। ‘एम-2’को अगर भारत में उतारा जाता है, जो इसे एम-3 के नीचे पोजिशन किया जाएगा। इसकी संभावित कीमत 80 लाख रूपए से शुरू होगी। इसका सीधा मुकाबला मर्सिडीज़-बेंज की सीएलए-45 एएमजी से होगा।

पावर स्पेसिफिकेशन की बात करें तो ‘एम-2’ में 3.0 लीटर का टर्बोचार्ज पेट्रोल इंजन लगा है। जो 370 पीएस की पावर और 465 एनएम का टॉर्क देता है। इसमें बूस्ट फंक्शन भी लगा है, जिससे इसका टॉर्क 500 एनएम तक पहुंच जाता है। यह टू-डोर कूपे कार है, जो बीएमडब्ल्यू की 2-सीरीज सेडान के प्लेटफार्म पर बनी है।  अग्रेसिव डिजायन, क्वालिटी में बेहतर और वजन में हल्की होने के कारण ‘एम-2’ काफी बेहतर है। यह कार 0 से 100 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार 4.5 सेकंड में पा लेती है। इसकी टॉप स्पीड 250 किलोमीटर प्रति घंटा है।

रिपोर्ट में दूसरा नाम है 330आई का। क्योंकि कंपनी ने भारत में अपनी 320आई को तो उतार रखा है। बीएमडब्ल्यू को अब यहां इसके पावरफुल वर्जन की जरूरत है। इसे देखते हुए ज्यादा पावरफुल 330आई पेट्रोल वेरिएंट को भी लॉन्च करने की योजना है। अगर इसे भारत में उतारा जाता है तो यह बंद हो चुकी बीएमडब्ल्यू 328आई की जगह लेगी। इसका इंजन 245 पीएस की पावर और 350 एनएम का टॉर्क देता है। संभावित कीमत 40 लाख रूपए के आसपास होगी।

पेट्रोल वर्जन लाने का सबसे महत्वूपर्ण कारण है दिल्ली-एनसीआर में 2000सीसी या इससे ऊपर के डीज़ल इंजन वाली कारों की बिक्री पर लगा बैन। सभी लग्ज़री कारें ज्यादातर डीज़ल इंजन में ही उपलब्ध हैं। एनसीआर में डीज़ल कारों पर बैन लगने से मर्सिडीज-बेंज, टोयोटा और महिन्द्रा सहित सभी कंपनियों की बिक्री पर असर पड़ा है। नुकसान की भरपाई करने और मार्केट में अपनी पोजिशन को बनाए रखने के लिए सभी कंपनियां अब पेट्रोल वर्जनों पर ध्यान दे रही हैं।

कारदेखो

भारत में एम2 और 330आई को लॉन्च कर सकती है बीएमडब्ल्यू