मोदी सरकार की आर्थिक नीतियों के खिलाफ कल प्रदर्शन करेगा भारतीय मजदूर संघ

नई दिल्ली ( 16 नवंबर ): राष्ट्रीय स्वयं संघ का सहयोगी संगठन भारतीय मजदूर संघ सरकार की आर्थिक और कुछ नीतियों को लेकर नाराज है। मजदूर संघ अपनी कुछ मांगों को लेकर आप सरकार के खिलाफ बिगुल बजाने का फैसला किया है। भारतीय मजदूर संघ ने 17 नवंबर को अपनी मांगों को लेकर मोदी सरकार खिलाफ प्रदर्शन करेगा। भारतीय मजदूर संघ रामलीला मैदान से संसद मार्च तक रैली निकालेगा। इस मार्च में बीएमएस की बैंक यूनियन की इकाई भी बैंकों के विलय की विरोध में हिस्सा लेगी।

जिस तरह बीजेपी आरएसएस का राजनीतिक संगठन है वैसे ही भारतीय मजदूर संघ मजदूरों और कमर्चारियों का संगठन है। 

भारतीय मजदूर संघ ने देशभर से कार्यकर्ताओं को 17 नवंबर को दिल्ली में जुटने के लिए कहा है। खासतौर से मणिपुर, त्रिपुरा, तमिलनाडु, केरल, अंडमान-निकोबार आदि स्थानों से कार्यकर्ताओं को इस रैली में बुलाया गया है। भारतीय मजदूर संघ का कहना है कि इस रैली के माध्यम से हमारी कोशिश रहेगी केंद्र सरकार पर दबाव बनाना जिससे कि सरकार श्रमिक क्षेत्र के प्रति अपने नजरिए और कार्यशैली में परिवर्तन लाए।