BMC में सत्ता पर फंसा पेंंच, गडकरी ने शिवसेना-बीजेपी के साथ आने के दिए संकेत

नई दिल्ली (25 फरवरी): बृहन्मुंबई महानगर पालिका BMC चुनाव में किसी भी पार्टी को सरकार बनाने के लिए पूर्ण बहुमत नहीं मिला है। चुनाव के नतीजों के बाद बाद सत्ता पर काबिज होने को लेकर राजनीतिक पार्टियों में रस्साकशी जोरों पर है। BMC में सत्ता को लेकर फंसे पेंच के बीच एकबार फिर शिवसेना और बीजेपी में दूरियां खत्म होती नजर आ रही है।

वहीं बीजेपी के वरिष्ठ नेता और केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी का कहना है कि कांग्रेस राज्य की बीजेपी सरकार को गिराना चाहती है। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि इसी वजह से कांग्रेस के कुछ नेता शिवसेना को समर्थन देने की बात कह रहे हैं।

नितिन गडकरी की माने तो शिवसेना और बीजेपी को साथ में आने की जरूरत है। गडकरी इससे पहले भी शिवसेना के प्रति नरम रुख दिखा चुके हैं। तब गडकरी ने कहा था कि दोनों पार्टियों के एक साथ आने के अलावा दूसरा और कोई विकल्प नहीं है। हालांकि गडकरी ने साफ कर दिया था कि इसके लिए शिवसेना को भी अपने तेवर नरम करने पड़ेंगे।