फडणवीस सरकार से समर्थन वापसी पर करेंगे विचार: उद्धव ठाकरे

नई दिल्ली ( 15 फरवरी ): गठबंधन टूटने के बाद शिवसेना और भाजपा के बीच जुबानी जंग और तेज हो गई है। उद्धव ठाकरे ने एक निजी न्यूज चैनल को दिए अपने इंटरव्यू में कहा कि मुझे तो निकट भविष्य में मध्यावधि चुनाव नजर आ रहे हैं, लोग तैयार रहें।" उन्होंने यह भी स्पष्ट किया कि हम बीएमसी चुनाव के बाद समर्थन वापसी पर विचार करेंगे। पहली बार उनकी पार्टी शिवसेना 37000 करोड़ रुपये के बजट वाली मुंबई महानगर पालिका के चुनाव में बीजेपी से दो-दो हाथ करेगी। बीएमसी पर पिछले 20 वर्षों से शिवसेना का राज है। बीएमसी का चुनाव 21 फरवरी को होना है।बीजेपी द्वारा लगाए गए आरोपों पर कड़ी आपत्ति जताई। बीजेपी ने आरोप लगाते हुए कहा था कि निगम के बजट में पारदर्शिता नहीं है और 350 करोड़ का घोटाला किया गया है। बीजेपी ने घटिया स्तर की सड़के बनाने का आरोप भी लगाया था। ठाकरे ने सवालिया लहजे में कहा, "आर्थिक सर्वे पर नजर डाल लीजिए, क्या उसमें ऐसा कहीं मिल रहा है।"ठाकरे यह नहीं रूके। उन्होंने परोक्ष रूप से बीजेपी पर कटाक्ष करते हुए कहा, "मुंबई हमारा गढ़ है। मैं इसके खिलाफ कोई भी कलंक बर्दाश्त नहीं करूंगा। आप मेरे बारे में चाहे कुछ भी कहें लेकिन मेरे शहर के बारे में नहीं।"मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस से मधुर संबंधों के बारे में सफाई देते हुए उन्होंने कहा, "मधुर संबंध का मतलब यह नहीं है कि आप झूठ बोलें।"