खुले में शौच रोकने के लिए बीएमसी ने अपनाया यह तरीका...

दीपक दुबे, मुंबई (4 मई): मुंबई में अब खुले में शौच करने वालों की खैर नहीं। बीएमसी ने एक नई मुहिम शुरू की है, जिसमें अगर कोई खुले में शौच करता पाया गया तो उसे 12 सौ रुपए का जुर्माना भरना होगा। साथ ही कान पकड़ कर उठक-बैठक भी लगानी होगी।

मुंबई की सड़कों, पुलों, नदी किनारों और रेलवे लाइन को अपनी बपौती समझने वालों के लिए एक चेतावनी है। अगर खुले में शौच की आदत है तो भूल जाइए। क्योंकि लोगों की सुविधा के लिए बनी सड़कें शौचालय नहीं है।आप मस्त होकर जहां-तहां गंदगी फैलाएं और दूसरे आपकी बेशर्मी का खामियाजा भुगतें ये ठीक नहीं। यही वजह है कि बीएमसी ने ऐसे लोगों को सबक सिखाने के लिए ये मुहिम शुरू की है।

अगर आप पानी की बोलत और डिब्बे लेकर खुले में शौच करते पाए गए तो अब बचना मुश्किल है। खुले मे शौच पर जेब तो कटेगी ही उठक-बैठक भी लगानी होगी। बीएमसी ने खुले में सौच करने वालों पर 12 सौ रुपए का जुर्माना लगाने का फरमान जारी किया है। मुंबई में ऐसे जगहों पर बीएमसी की टीमें नजर रख रही हैं। बीएमसी के अधिकारी सुबह सवेरे ही खुले में शौच करने वालों के ठिकानों पर पहुंच जाते हैं और फिर शुरू हो जाती है धरपकड़। कई तो बीएसमी के इन अधिकारियों की भनक लगते ही भागना शुरू कर देते हैं, लेकिन जो शिकंजे में आ जाता है उसकी शामत तय है।

बीएमसी का दावा है कि उसने स्वच्छ भारत अभियान के तहत ये अभियान शुरू किया है। लेकिन बीएमसी को इस बात का भी जवाब देना होगा की, जिन इलाकों में शौचालयों की कमी हैं वहां लोगों के लिए क्या इंतजाम किए गए हैं। आम लोगों की सुविधा के लिए कितने शौचालय बनवाए गए हैं और ये शौचालय आखिर किस हाल में है। ताकि लोगों को खुले में शौच के लिए ना जाना पड़े।

वीडियो:

[embed]https://www.youtube.com/watch?v=-yAC2Zv5YZA[/embed]