ब्लड कैंसर के दर्द को मात देकर गोरखपुर की शुप्रिया बनी विजेता

गोरखपुर (10 जून): अगर आपके हौंसले बुलंद हों तो कोई भी लक्ष्य मुश्किल नहीं होता। इस कहावात के एकबार फिर सही साबित कर दिया है गोरखपुर की एक होनहार बेटी ने। सुप्रिया ने ब्लड कैंसर जैसी गंभीर बीमारी से ग्रस्त होने के बावजूद यूपी बोर्ड की हाईस्कूल परीक्षा में 81.16 फीसदी अंक हांसिल किए हैं।


गोरखपुर के जटेपुर कालीमंदिर के पास रहने वाले वकील दिग्विजय भारती और रूपा देवी घर में बेटी के जन्म से बहुत खुश थे। वह इस बेटी को पढ़ा लिखा कर अधिकारी बनाना चाहते थे। तीन साल पहले इस घर की खुशियों को मानो किसी की नजर की नजर लग गयी। एक दिन पता चला उनकी प्यारी बिटिया को ब्लड कैंसर है। अपनी बिटिया को बचाने के लिए परिवार में सारा दम लगा दिया। एक एक दिन पहाड़ होता गया लेकिन इस दुःख की घड़ी में भी परिवार ने हार नहीं मानी न इस बेटी ने। उसने जिन्दगी को जीना सीखा और दूसरे के लिए नजीर बनने का फैसला किया। फिर पापा की यह बिटिया पढाई भी जारी रखने का फैसला की।


शुक्रवार को रिजल्ट आया तो सुप्रिया ने हाइस्कूल की परीक्षा 81 प्रतिशत से पास किया। घर के खुशियां हैं लेकिन बेटी को यह मलाल भी कि पापा से टॉप करने के वादे को पूरा न कर सकी है। सुप्रिया के माता पिता को अपनी बेटी पर गर्व है। बस चिंता है कि किसी तरह वह जीवन की भी परीक्षा पास कर जाए। उनको आस सरकार से भी है कि वह इस बेटी के लिए आगे आएगी।