राजस्थान: छात्रा के स्कूल बैग में धमाका, उड़ गया हाथ का पंजा

नई दिल्ली (5 अगस्त): राजस्थान के दौसा जिले में स्कूल से घर लौटते समय एक बच्ची के बैग में विस्फोट हो गया। इस विस्फोट में बच्ची समेत तीन उसके दो और साथी भी घायल हो गए। बताया जा रहा है की यह विस्फोट किसी अंजान चीज को उठाकर बैग में रख लिए जाने के कारण हुआ है। 

यह विस्फोट इतना भीषण था कि बच्ची के हाथ का पंजा उखड़ गया। इस हादसे में उसके साथ अंगना में खेल रहे दो और बच्चे भी जख्मी हो गए। चेहरे, सिर और शरीर के अन्य अंगों पर विस्फोट के बाद गंभीर चोटें आई हैं। यह मामला दौसा जिले के गुढ़ाकटला गांव का है। यहां कक्षा 3 की छात्रा भारती की माने तो स्कूल से घर के रास्ते एक गेंदनुमा एक वस्तु मिली थी जिसे जिज्ञासावश उसने अपने बैग में रख लिया। थोड़ी ही देर में बैग में विस्फोट हो गया।

बैग घर के एक कमरे में रखा था। यहां पास ही एक अन्य बैग भी रखा था। जैसे ही उसने अपने बैग में हाथ डाला, जोरदार धमाका हुआ और बालिका का हाथ का पंजा उड़ गया। पास ही खेल रहा भाई नितेष और चाचा का लड़का मोहित भी धमाके की चपेट में आकर घायल हो गए। धमाके के साथ ही चारों ओर खून बिखर गया। सभी को अस्पताल ले जाया गया।  बालिका के पिता जयपुर में काम करते हैं। वो भी अब गांव पहुंच गए हैं।

शुरुवाती जाँच में पता चला है की यह गांव सरिस्का के जंगल के नजदीक ही पड़ता है। यहां के गांव के लोग आए दिन आने वाले जंगली सुअरों से परेशान रहते हैं। क्यों की ये जंगली सुअर उनके खेतों की फसल को खराब कर देते हैं। उनको भगाने और मारने के लिए ही गांव के लोग डिब्बे में खाने पिने की चीजों के साथ विस्फोटक दबाकर यहां रख देते हैं और जब सुअर उसे खाने आता है तो विस्फोट हो जाता है। संभव है कि वही विस्फोटक वाला इसी डिब्बे को  बालिका ने अपने बैग में रख लिया हो और उसी से विस्फोट हुआ हो।