पीओके में पाकिस्तान के खिलाफ विद्रोह-काला दिवस मनाया

नई दिल्ली (22 अक्टूबर): पाकिस्तान के खिलाफ पाकिस्‍तान अधिकृत कश्मीर (पीओके) और गिलगित-बाल्टिस्तान में शनिवार को यूकेपीएनपी ने 'ब्लैक डे' मनाया। इस मौके पर पार्टी ने पाकिस्तान से कहा कि वह इन दोनों क्षेत्रों से अपनी सेना हटाए और भारत के साथ शांतिपूर्ण बातचीत करे।

यूकेपीएनपी के लीडर जमील मसूद ने कहा, 'आज का दिन कश्मीर के इतिहास में काफी महत्‍वपूर्ण है क्‍योंकि 22 अक्‍टूबर 1947 को पाकिस्‍तान ने कश्‍मीर में अपनी सेना और कबीलाइयों को भेजकर समझौते उल्‍लंघन किया था। इस दिन को काले दिन के रूप में मनाया जाता है।'

जमील ने कहा, 'आज हमारी पार्टी यूकेपीएनपी, इसकी ब्रिटेन और यूरोप की शाखा और पाकिस्तान के सभी कश्मीरी मांग करते हैं कि पाकिस्तान गिलगित-न और पीओके से अपनी सेना हटाए और भारत के साथ शांतिपूर्वक बातचीत करे। जो छद्म युद्ध चलाया जा रहा है उसे खत्म करे।  मसूद ने कहा कि यह 21वीं सदी है और पाकिस्तान को अपने लोगों को हक देना चाहिए और भारत के साथ बातचीत करनी चाहिए।

इस मौके पर निर्वासन में रह रहे पीओके के नेता शौकत अली कश्मीरी ने कहा, 'इस दिन पाकिस्तान ने  हमसे हमारा घर छीनने की कोशिश की। इस दिन कई लोग मारे गए थे और कई पाकिस्तान के हाथों टॉर्चर हुए थे। हम उन लोगों को नमन करते हैं जिन्होंने कश्मीर के लिए अपनी जान दी।